News

Budget 2020: बजट को मिला अंतिम रूप, किसानों के लिए हो सकता है खास

जहां हर किसी को Budget 2020-21 का इंतज़ार है, वहीं हर साल की तरह ही इस बार भी बजट को अंतिम रूप देने वाली रस्म पूरी हो चुकी है. दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक स्थित वित्त मंत्रालय में हलवा रस्म (Halwa Ceremony) का कार्यक्रम पूरा हो चुका है. इसका मतलब यह है कि बजट को पेश करने का काउंटडाउन शुरू हो चुका है.

अगले महीने 1 फरवरी को पेश होने वाले बजट के लिए सोमवार से संबंधित दस्तावेज़ों की छपाई शुरू हो गई है. इस दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitaraman) भी मौजूद रहीं और केंद्रीय बजट 2020-21 (Budget 2020-21) से संबंधित दस्तावेजों की छपाई की हरी झंडी का भी संकेत दिया. वहीं अब देखना दिलचस्प होगा कि जहां देश में किसानों की आय को दोगुना करने की बात कही  जा रही है, वहीं आने वाले बजट में अन्नदाताओं के लिए क्या नया और खास सरकार लेकर आती है.

मंत्रालय में हलवा बनने की क्या है कहानी

आपको बता दें कि वित्त मंत्रालय में एक बड़ी कढ़ाई में हलवा बनाने की रस्म है. हलवा बनने के बाद वित्त मंत्री और बाकी लोगों की मौजूदगी में इसे बांटा जाता है. इसके पीछे का कांसेप्ट यह है कि जिस तरह से भारत में किसी भी शुभ काम करने से पहले अच्छे परिणाम के लिए मुंह मीठा कराया जाता है, वैसे ही यहां मंत्रालय में भी इस हलवे की रस्म के ज़रिए बजट का शुभारंभ किया जाता है.



English Summary: halwa ceremony held for the upcoming budget 2020 by finance ministry and nirmala sitaraman

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in