1. ख़बरें

Agriculture News: कृषि जगत से जुड़ी ऐसी खबरें, जिन्होंने ‘खबरों की दुनिया’ में मचा रखा है तहलका

सचिन कुमार
सचिन कुमार

Agriculture News

हम आपको अपनी इस खास रिपोर्ट में कृषि जगत से जुड़ी कुछ बड़ी खबरों से रूबरू कराने जा रहे हैं, जिनका आपसे सीधा सरोकार जुड़ा है. इसके साथ ही इन खबरों का जानना आपके लिए बेहद जरूरी है, तो चलिए सिलसिले और पूरे तफसील से डालते हैं, इन खबरों पर एक नजर...!

किसान भाई यहां से खरीद सकते हैं सस्ता बीज

बासमती निर्यात विकास प्रतिष्ठान, मोदीपुरम और सरदार वल्लभ भाई पटेल कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मेरठ में बासमती के कई तरह की किस्मों के बीज की बिक्री शुरू हो गई है. आप हेल्पलाइन नंबर 8630641798 पर मैसेज या फोन करके बीज खरीद सकते हैं.

जे-फार्म को संग्रहीत करने वाला पंजाब पहला राज्य

डिजीलॉकर में किसानों के जे-फार्म का भंडारण शुरू करने वाला पंजाब पहला राज्य बन गया है, जिससे कि अब  किसानों को फार्म की भौतिक प्रतियों को ले जाने या जमा करने की आवश्यकता नहीं होगी.

इफको ने बेचा 160 करोड़ रुपए का पशु आहार

फको किसान संचार लिमिटेड ने वित्त वर्ष 2020 और 2021 में 160 करोड़ रुपए का एक लाख टन पशुआहार बेचा है. बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए कंपनी अब अपना प्लांट स्थापित करने पर विचार कर रही है.  गौरतलब है कि इफको कंपनी वर्तमान में अन्य निर्माताओं के साथ भागीदारी कर पशुआहार बेच रही है.

बागवानी से दोगुनी होगी किसानों की आय!

किसानों की आय को बढ़ाने में बागवानी क्षेत्र की भूमिका अहम हो सकती है. इसकी संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए, देशभर में बागवानी क्षेत्र के विकास और इसे बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने किसानों को साल 2021 और 2022 में 2 हजार 250 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं.

फल और सब्जियों के बढ़े दाम

खाद्य तेल के बाद अब फल और सब्जियों के बढ़ते भाव ने लोगों की परेशानियों को और बढ़ा दिया है. दूसरी तरफ, लॉकडाउन के कारण देश की 60 प्रतिशत से अधिक मंडियां बंद हैं, जिससे किसानों को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है.

DAP खाद के रेट में 58% का इजाफा

कोरोना महामारी के बीच किसानों की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है. संकट में फंसे अन्नदाताओं को अब 1200 रुपए में मिलने वाली डीएपी खाद के लिए 1900 रुपए चुकाने होंगे.  पेट्रोल-डीजल के बाद मंहगे हुए खाद के सवाल पर किसानों का कहना है कि खेती अब घाटे का सौदा बन कर रह गई है.

किसानों को मिलेगी सब्सिडी

पंजाब सरकार द्वारा कामयाब किसान-खुशहाल पंजाब स्किम के तहत खेती मशीनरी सब्सिडी लेने संबंधी अर्जियां 26 मई तक पोर्टल के माध्यम से देने की अपील की गई, तो वहीं chief agriculture office डॉ. चरणजीत सिंह कैंथ का कहना है कि सब्सिडी लेने के लिए agriculture depardment के पोर्टल पर ऑनलाइन अप्लाई करना जरुरी है. इस संबंध में आप 98724-49779 पर संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

बेहाल हैं देश के किसान

कोरोना की दूसरी लहर के दौरान कृषि क्षेत्र को भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है. किसान बेहाल हैं. कोरोना की वजह से बाजार में सब्जियों और फलों की मांग काफी कम हो गई है, जिसका सीधा नुकसान किसानों को हो रहा है. वहीं, अगर किसानों की कुछ फसलें बाजार में पहुंच भी रही है, तो उन्हें उचित दाम नहीं मिल पा रहा है. ऐसे में किसान अब औने पोन दाम में सब्जियां बेचने पर मजबूर हो चुके हैं.

कोरोना संकट में किसानों को मिला तोहफा

कई राज्यों में टमाटर कौड़ियों के भाव बिक रहा है. दूसरी ओर हरियाणा में इसके किसान भावांतर भरपाई योजना का लाभ उठा रहे हैं. जहां उन्हें कम से कम 500 रुपये क्विंटल का रेट मिलना तय है. किसान उत्पादक संगठन ने इस काम को और आसान कर दिया है. जब मंडियों में टमाटर के दाम निर्धारित मूल्य से कम रहते हैं, तो उस स्थिति में किसान को भाव के इस अंतराल की भावांतर भरपाई योजना के तहत लाभ दिया जाता है.

ये किसान बेचता है 33 गुना सस्ता खाद

मध्य प्रदेश जिला रतलाम के निवासी 22 साल के जितेंद्र आतोदिया कृषि पृष्ठभूमि से आते हैं, जिनकी जैविक और प्राकृतिक खेती के तौर-तरीकों को आगे बढ़ाने में गहरी रुचि है. जितेंद्र आतोदिया बाजार में मिलने वाले जैविक खाद से 33 गुना सस्ता जैविक खाद बनाकर बेच रहे हैं. इस संबंध में कृषि जागरण के एफटीबी प्लेटफॉर्म पर उन्होंने क्या कुछ कहा आइए जानते हैं.

किसानों के खाते में पहुंचे 2-2 हजार रुपए

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश के साढ़े 9 करोड़ से अधिक किसानों के खाते में PM Kisan स्कीम के तहत 2-2 हजार रुपए की आठवीं किस्त जारी की. एक ही दिन में 20 हजार करोड़ से अधिक रुपए किसानों के खाते में जमा किए गए. तो वहीं पश्चिम बंगाल के किसानों को पहली बार इस योजना का लाभ मिला.

किसानों के लिए सरकार ने खोला खजाना

केंद्र की मोदी सरकार ने बागवानी क्षेत्र के लिए 2250 करोड़ रुपए का प्रावधान जारी किया, जिस पर राजस्थान के सीकर जिले की बागवानी महिला किसान संतोष खेदड़ ने krishi jagran के साथ अपनी खुशी जाहिर की है.

सैनिटाइजर की खेती में मुनाफा ज्यादा, मेहनत कम

कोरोना महामारी के आने के बाद से मास्क और सेनिटाइजर हमारी जिंदगी का अहम हिस्सा बन गया है, इसीलिए सेनिटाइजर की मांग पिछले डेढ़ साल से काफी बढ़ गई है. ऐसे में सेनिटाइजर का निर्माण कंपनियां एक खास पौधे से निकलने वाले तेल से भी कर रही हैं. जिसका नाम है लेमनग्रास. आम बोलचाल की भाषा में इसे नींबू घास भी कहा जाता है. मेहनत व लागत कम होने और कमाई ज्यादा होने के कारण किसानों का रुझान इसकी तरफ हुआ है. किसानों का कहना है कि एक एकड़ में लेमनग्रास की खेती कर हर साल कम से कम दो लाख रुपए तक का मुनाफा कमाया जा सकता है.

KCC पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला

कोरोना महामारी के दौर में केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों को बड़ी राहत दी है. करीब 8 करोड़ किसान क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए लोन भुगतान करने की तिथि को 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून कर दिया है.

KCC पर मोदी सरकार का बड़ा फैसला

कोरोना महामारी के दौर में केंद्र की मोदी सरकार ने किसानों को बड़ी राहत दी है. करीब 8 करोड़ किसान क्रेडिट कार्ड धारकों के लिए लोन भुगतान करने की तिथि को 31 मार्च से बढ़ाकर 30 जून कर दिया है.

English Summary: Agriculture news which are important for you

Like this article?

Hey! I am सचिन कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News