1. ख़बरें

आ गया ऐसा Herbal Mouth Sanitizer, जो 60 सेकेंड में खत्म करेगा Coronavirus!

Coronavirus

Herbal Mouth Sanitizer

कोरोना वायरस (Coronavirus) मुंह के जरिए बाहर निकलकर दूसरे लोगों को संक्रमित कर रहा है, इसलिए मास्क पहनने का चलन चला. यही वायरस विषाणु मुंह-नाक से होकर फेफड़ों तक पहुंच जाता है और फिर उन्हें नुकसान पहुंचा रहे हैं.

ऐसे में अगर कोरोना वायरस को मुंह में खत्म कर दिया जाए, तो यह सीने को संक्रमित नहीं कर पाएगा और न ही थूक के जरिए बाहर निकल पाएगा. इससे लोगों के संक्रमित होने का खतरा कम हो जाएगा.

60 सेकेंड में नष्ट हो जाएगा वायरस

उत्तर प्रदेश (UP) निवासी अमेरिकी वैज्ञानिक ने एक हर्बल माउथ सैनिटाइजर (Herbal Mouth Sanitizer) बनाया है. इससे कोरोना वायरस मुंह में ही नष्ट किया जा सकता है. खास बात यह है कि यह पूरी तरह से प्राकृतिक है. इसमें कोई कैमिकल नहीं मिलाया गया है. जानकारी मिली है कि सिद्धार्थनगर के बांसी के मूल निवासी और अमेरिका के मेरीलैंड में यूनिफाम्र्ड सर्विसेज आफ हेल्थ साइंस में वैज्ञानिक सहायक प्रोफेसर डॉ. शाश्वत शरद श्रीवास्तव ने हर्बल सैनिटाइजर बनाया है. इससे 60 सेकेंड तक गरारा करने पर कोरोना वायरस नष्ट हो जाता है.

4-5 घंटे रहेगा 'गरारे' का असर

इसका क्लीनिकल ट्रायल दवा के तौर पर प्रयोग के लिए AIIMS जोधपुर में चल रहा है. यह माउथवाश मुंह के वायरस, बैक्टीरिया और अन्य रोगों के कारक को नष्ट करता है. बताया जा रहा है कि इसमें शतावरी, ब्राह्मी, कलौंजी, मुलेठी, नीम, तुलसी, अश्वगंधा, सौंफ जैसी 24 औषधियों का अर्क है. बता दें कि दूसरे माउथवाश में संश्लेशित कैमिकल होता है. ध्यान रहे कि इसका लंबे समय तक प्रयोग नुकसान भी दे सकता है. इस हर्बल सैनिटाइजर से गरारे का असर 4 से 5 घंटे तक रहता है.

कोरोना मरीजों के इलाज में भी कारगर

अच्छी बात है कि यह हर्बल सैनिटाइजर कोरोना वायरस समेत किसी भी वायरस को मारने की क्षमता रखता है. 3ML इस माउथवाश को 30ML पानी मे डालकर दिन में 3 से 4 बार 60 सेकेंड तक गरारा करना है. इससे वायरस व्यक्ति के गले में ही खत्म हो जाएगा. इससे वायरस को शरीर के अंदर जाने से रोका जा सकता है.

कहां मिलेगा हर्बल माउथ सैनिटाइजर

अमेजन में यह राइट श्योर गार्गल और वन एमजी की वेबसाइट पर उपलब्ध है. इसकी कीमत लगभग 249 रुपए है.

English Summary: The American scientist has created an herbal mouth sanitizer

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News