1. सरकारी योजनाएं

कृषि यंत्रों पर मिल रही 80 प्रतिशत तक की सब्सिडी, जानिए कैसे उठाएं इस योजना का लाभ

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Farm Machinery Bank

Farm Machinery Bank

आज भी हमारे देश में कई किसान ऐसे हैं, जो आर्थिक रूप से सक्षम नहीं हैं. इस वजह से वे खेतीबाड़ी के लिए महंगे कृषि यंत्र भी नहीं खरीद पाते हैं. इसका सीधा प्रभाव फसल उत्पादन पर पड़ता है. ऐसे में किसानों की सहायता करने के लिए केंद्र और राज्य सरकार अपनी तरफ से हर संभव प्रयास करती रहती हैं, ताकि किसान भाई महंगे कृषि यंत्र खरीद सकें. इसी क्रम में सरकार की ओर से एक फार्म मशीनरी बैंक (Farm Machinery Bank) योजना चलाई जा रही है, जिसे केंद्र सरकार द्वारा चलाया जा रहा है. इसके तहत किसानों को सब्सिडी पर कृषि यंत्र प्रदान किए जाते हैं.

क्या है फार्म मशीनरी बैंक की योजना? (What is Farm Machinery Bank Scheme?)

इस योजना के तहत किसानों को 80 प्रतिशत तक की सब्सिडी पर कृषि यंत्र प्रदान किए जाते हैं. भारत सरकार का लक्ष्य है कि आने वाले समय में किसानों की आमदनी दोगुनी की जाए. इसके लिए जरूरी है कि छोटे और सीमांत किसान खेती की नई तकनीक का उपयोग करें. इसके साथ ही सब्सिडी पर कृषि यंत्र खरीद सकें. इसके लिए ग्राम पंचायतों में CHC सेंटर की सहायता से फार्म मशीनरी बैंक की स्थापना की जा रही है.

यूपी सरकार इन यंत्रों पर सरकार दे रही है सब्सिडी (UP government is giving subsidy on these devices)

यूपी में फार्म मशीनरी बैंक योजना के तहत कई कृषि यंत्रों पर सब्सिडी दी जा रही है. इसमें पैडी स्ट्राचापर, मल्चर, श्रेडर, रोटरी स्लेशर, हाइड्रोलिक रिवर्सेबल एम.बी. पलाऊ, सब मास्टर, मैनेजमेंट सिस्टम, सुपर सीडर, बेलर, सुपर स्ट्रा, जीरो टिल सीड कम फर्टीड्रिल, हैप्पी सीडर, स्ट्रा रेक, क्रॉप रीपर व रीपर कंबाडर समेत अन्य कृषि यंत्र शामिल हैं. इन्हें सब्सिडी पर उपलब्ध कराया जा रहा है.

कृषि यंत्रों पर सब्सिडी लेने की प्रक्रिया (Procedure for taking subsidy on agricultural machinery)

  • इसके लिए किसान भाई CHC Farmer Machinery Solutions ऐप को डाउनलो़ड कर सकते हैं.

  • इसको बाद ऐप पर अपना मोबाइल नंबर डालें.

  • फिर ऐप को ओटीपी के माध्यम से लॉग इन कर सकते हैं.

  • लॉग इन करने के बाद अगले पेज पर सेलेक्ट इम्पलीमेंट का विकल्प आएगा.

  • यहां पर क्लिक करना है फिर सब्सिडी पर दी जा रही सारे यंत्रों की लिस्ट सामने आ जाएगी.

  • इस ऐप पर अपना क्षेत्र अंकित करना होगा फिर वहां के सारे नजदीकी कस्टम हायरिंग सेंटर की भी लिस्ट दिखाई देने लगेगी.

  • इस तरह किसान भाईयों को यंत्रों और उसके विक्रय केंद्र के बारे में आसानी से जानकारी मिल सकती है.

पंजीकरण कर टोकन जनरेट करना (Generating token by registering)

  • किसानों को योजना का लाभ उठाने के लिए किसान सेवा योजना पोर्टल upagriculture.com पर जाना होगा.

  • यहां पंजीकरण कर टोकन जनरेट कर सकते हैं.

  • आप एक दिन में एक मोबाइल से अधिकतम 5 टोकन ही जनरेट कर सकते हैं.

  • फार्म मशीनरी बैंक की योजना से संबधित अन्य जानकारी के लिए आप https://agrimachinery.nic.in/ पर विजिट कर सकते हैं.

English Summary: under farm machinery bank, up to 80 percent subsidy is being given on agricultural machinery

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News