इस्राइल भारत के लिए कृषि क्षेत्र में है महत्वपूर्ण

2015 से 2018 तक के लिए भारत-इजरायल कृषि कार्य योजना संचालित हो रही है, और भारतीय किसानों के समक्ष नवीनतम तकनीक का प्रदर्शन करने वाले प्रस्तावित 26 कृषि उत्कृष्टता केंद्रों में से 15 इजरायल की मदद से विकसित किए जा रहे हैं.

हरियाणा में करनाल के घरुंड में स्थित कृषि उत्कृष्टता केंद्र पर हर साल 20,000 से अधिक किसान जाकर लाभ लेते हैं.

व्यापार :  इजरायल 2016-17 में भारत का 38वां सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार रहा है, जिसके तहत 5.02 अरब डॉलर (33,634 करोड़ रुपये) का व्यापार हुआ, जो 2012-13 के मुकाबले 18 फीसदी कम था. भारत के पक्ष में व्यापार संतुलन 2016-17 में 1.10 अरब डॉलर (7,370 करोड़ रुपये) रहा था. भारत ने इजरायल को 2016-17 में 1.01 अरब डॉलर मूल्य के खनिज ईंधन और तेलों के निर्यात किए थे. 

मुंबई विश्वविद्यालय में अंतर्राष्ट्रीय संबंध विभाग की प्रोफेसर उत्तरा सहस्रबुद्धे ने कहा, 'कृषि, रक्षा और विज्ञान व प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग के कारण इजरायल के साथ भारत के संबंध महत्वपूर्ण हैं.'

Comments