Commodity News

पश्चिम बंगाल सब्जी उत्पादन में सबसे आगे, पढ़िए अन्य राज्य कौन से पायदान पर रहे

Horticulture in India

हाल ही में बागवानी बैठक में साल 2018-19 के आंकड़ें प्रस्तुत किए गए, जिनमें पश्चिम बंगाल सब्जी उत्पादन में शीर्ष राज्य बनकर उभरा है. रिपोर्ट्स के मुताबिक पश्चिम बंगाल ने सब्जी उत्पादन में उत्तर प्रदेश को पछाड़ दिया है.

भारत में सब्जी उत्पादन

कृषि मंत्रालय द्वारा आयोजित एक सम्मेलन में बागवानी उत्पादन के आंकड़ों को पेश किया गया, जिनके अनुसार पश्चिम बंगाल ने साल 2017-17 में 27.70 मिलियन टन और साल 2018-19 में 29.55 मिलियन टन सब्जियों का उत्पादन किया है. इसी तरह साल 2018-19 में उत्तर प्रदेश में सब्जी का उत्पादन 27.71 मिलियन टन रहा है, जो पहले शून्य स्थान पर था.

भारत में फल उत्पादन

फल उत्पादन की बात करें, तो आंध्र प्रदेश 17.61 मिलियन टन के साथ फलों में शीर्ष स्थान पर बना हुआ है. इसके बाद महाराष्ट्र 10.82 मिलियन टन और उत्तर प्रदेश 10.65 मिलियन टन के साथ शीर्ष पर है. बता दें कि आंध्र प्रदेश ने अपनी स्थिति में थोड़ा सुधार किया है, तो वहीं महाराष्ट्र ने असम को पीछे छोड़ दिया, जो साल 2017-18 में दूसरे स्थान पर था. उत्तर प्रदेश भी साल 2017-18 के स्तर से कई पायदान ऊपर चढ़कर तीसरी रैंक पर पहुंच गया है.

Vegetable production

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि साल 2018-19 में भारत के कुल सब्जी उत्पादन में पश्चिम बंगाल का 15.9 प्रतिशत हिस्सा है. इसके अलावा यूपी का उत्पादन 14.9 प्रतिशत, मध्य प्रदेश 9.6 प्रतिशत, बिहार का 9 प्रतिशत और गुजरात का 6.8 प्रतिशत हिस्सा रहा है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक

सब्जी की खेती का क्षेत्र साल 2004-05 में 6.74 मिलियन हेक्टेयर से बढ़कर साल 2018-19 में 10.10 मिलियन हेक्टेयर हो गया है. अगर सब्जियों के उत्पादन की बात करें, तो साल 2004-05 में 101.25 मिलियन टन से बढ़कर साल 2018-19 में 185.88 टन हो गया, जिसका औसत उत्पादन 18.4 टन प्रति हेक्टेयर है. देश में उगाई जाने वाली कई मुख्य सब्जियों की फसलें हैं, जिनमें वैश्विक सब्जी उत्पादन का 11.2 प्रतिशत हिस्सा प्याज, आलू, टमाटर, बैंगन, फूलगोभी, गोभी, मटर और भिंडी का होता है. भारत में बागवानी फसलों के कुल उत्पादन में फलों का लगभग 31.4 प्रतिशत हिस्सा है. साल 2018-19 में फल की खेती का क्षेत्र 6.65 मिलियन टन था, जो देश में बागवानी खेती के तहत कुल क्षेत्रफल का 26.1 प्रतिशत है.

ये खबर भी पढ़ें : कटहल की खेती करके कमाएं ज्यादा मुनाफा, पढ़िए कैसे



Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in