1. बाजार

जानें! तेल निकालने का बिजनेस शुरू करने का तरीका

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य

हर घर में तेल का उपयोग जरूर होता है. सभी लोग अपनी पसंद के तेल में खाना बनाते हैं. इसके लिए बाजार में कई प्रकार के तेल उपलब्ध होते हैं, लेकिन तेल सिर्फ खाना बनाने तक ही सीमित नहीं है. इसका उपयोग कई तरह के कामों में किया जाता है, इसलिए घरों में कई प्रकार के तेलों का इस्तेमाल होता है. यही वजह है कि बाजार में कई प्रकार के तेलों की मांग काफी अधिक रहती है. हमारे देश में ये व्यापार काफी कामयाब हुआ है. अगर आप चाहें, तो तेल बेचने का व्यापार से अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. इसके लिए तेल की मिल खोल सकते हैं, लेकिन इससे पहले आपको पता होना चाहिए कि तेल की मिल की शुरूवात कैसे कर सकते हैं. आज हम अपने इस लेख में आपको इसकी पूरी जानकारी देने वाले हैं. ऐसे में इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ते रहें.

क्या होता है तेल की मिल (What is Oil Mill)

तेल की मिल में बीजों को पीसकर उनसे तेल निकाला जाता है. इसके बाद तेल को बोतलों में भरकर बाजार में भेजा जाता है. हालांकि तेल की मिल शुरू करने के लिए आपको कई तरह की मशीनों की जरूरत पड़ती है. आपको बता दें कि बीज से तेल कई तरह की प्रक्रियाओं के बाद निकाला जाता है. इस दौरान अलग तरह की मशीनों का इस्तेमाल होता है.  जैसे, स्क्रू एक्सपेलर, कुकर और फ़िल्टर प्रेस मशीन आदि. इन मशीनों का इस्तेमाल अलग-अलग चरणों में किया जाता है. ये आपको तय करना होगा कि आप कौन सा तेल बाजार में बेचना चाहते हैं, ताकि उसी तेल की मिल और मशीन खरीद सकें. जैसे, सरसों का तेल, जैतून का तेल, तिल का तेल आदि.

तेल की मिल के लिए लोकेशन (location for business)

इस व्यापार की जगह ऐसी होनी चाहिए, जहां ट्रांसपोर्टेशन की सुविधा अच्छी हो, साथ ही कच्चे माल को फैक्ट्री तक पहुंचाने में अधिक समय नहीं लगता हो. इससे ट्रांसपोर्टेशन का खर्चा बचता है. इसके अलावा अपने शहर की किसी लोकल साईट को भी चुन सकते हैं, जहां फैक्ट्री किराए पर दी जा रही हों.

तेल की मिल के लिए कच्चा माल (Raw Material for oil Mill)

आप जिस तेल की मिल शरू करने वाले हैं. सबसे पहले उस बीज को दुकानदार या फिर किसी किसान से खरीदना होगा. अगर आप चाहें, तो इन बीजों का पौधा भी लगा सकते है, ताकि बीज को बाहर से खरीदने की जरूरत न पड़े.

बीज से तेल निकालने की प्रक्रिया (Oil extraction process)

तेल निकालने की पूरी प्रक्रिया काफी लंबी होती है. इसके लिए मशीन का उपयोग किया जाता है, ताकि किसी भी बीज से तेल निकाला जा सके.  

  • सही बीज का चुनाव करना

  • बीजों री गंदगी को साफ करना

  • डिकॉर्टीसेशन

  • बीज की कंडीशनिंग

  • बीज को गर्म करना

  • तेल निकालना

  • छानने का काम

बीजों से तेल निकालने के लिए इन सभी प्रक्रिया का महत्वपूर्ण हैं. इनको पूरा करने के बाद तेल निकाला जाता है. इसके बाद तेल को बोतलों में भरा जाता है और बाजार में बेचने के लिए भेजा जाता है. ध्यान रहे कि आपको इन बोतलों को किसी व्यापारी से बनवाना होगा, साथ में ही इन बोतलों पर लेबलिंग भी करवानी पड़ेगी.

तेल की मिल के लिए लाइसेंस और प्रमाणीकरण (Licenses And Certification for oil mill)

तेल की मिल के लिए कई तरह के लाइसेंस और प्रमाणीकरण की जरूरत होती है. आप इन लाइसेंस और प्रमाणीकरण के बाद ही अपने तेल को बाजार में बेच पाएंगे. आपको बता दें कि भारत सरकार की तरफ से खाने की चीजों पर दो प्रकार के लाइसेंस दिए जाते हैं.

  1. भारतीय मानक ब्यूरो

  2. एफएसएसएआई

इसके अलावा आप जिस राज्य में तेल की मिल की शुरूवात कर रहे हैं. उस राज्य की सरकार से भी कई प्रकार के लाइसेंस लेने पड़ सकते हैं.

अन्य बातें

  • तेल को बेचने का नेटवर्क अच्छा होना चाहिए, ताकि तेल के तैयार होते ही बाजार में बिक जाए, क्योंकि तेल के फ़िल्टर होने के बाद वह केवल 18 महीने तक ही सही रह पाता है.

  • मिल में काम कर रहे लोगों को ट्रेनिंग देनी चाहिए. जिससे वो सही से मशीनों को चला सकें और तेल निकालने में कोई परेशानी ना आएं.

  • अधिक मुनाफा कमाने के लिए व्यापार को और बढ़ा सकते हैं. इसके लिए एक तरह के बीज का तेल बेचा जा सकता है. दूसरी तरफ और दो से तीन प्रकार के बीजों का भी तेल बेच सकते हैं, जिससे अधिक पैसा कमाया जा सके..

  • सबसे खास बात है कि तेल की मिल को शुरू करने से उसका बीमा करवा लें.

English Summary: how to start oil mill

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News