1. ग्रामीण उद्योग

50 हजार में शुरू करें एलोवेरा प्रोडक्ट निर्माण का बिजनेस, हर महीने होगी जबरदस्त कमाई

यदि नौकरी करते-करते परेशान हो गए हैं और कम पूंजी में खुद का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं, तो एलोवेरा प्रोडक्ट निर्माण का बिजनेस शुरू कर सकते हैं. दरअसल, एलोवेरा प्रोडक्ट की इस समय जबरदस्त मांग है. वहीं इस बिजनेस को आप बेहद कम निवेश में शुरू कर सकते हैं. जबकि कमाई आपकी शानदार होगी. तो आइये जानते हैं एलोवेरा प्रोडक्ट निर्माण का बिजनेस कैसे शुरू करें. 

ऐलोवेरा प्रोडक्ट बिजनेस कैसे शुरू करें?

पिछले कुछ सालों से भारत समेत अन्य देशों में एलोवेरा से निर्मित प्रोडक्ट की मांग बढ़ी है. इसका उपयोग खाद्य पदार्थों और ब्यूटी प्रोडक्ट्स में किया जाता है. यही वजह है कि एलोवेरा के जरिए अच्छी कमाई की जा सकती है. एक तरफ एलोवेरा की खेती करके अच्छी आय अर्जित की जा सकती है. वहीं दूसरी तरफ जूस या पाउडर निर्माण करके बेचा जा सकता है.

प्रोसेसिंग प्लांट की लागत?

सबसे पहले एलोवेरा की खेती की बात करें तो महज 50 हजार रूपये का निवेश करना पड़ेगा. इतने खर्च में आप एलोवेरा की खेती कर सकते हैं. वहीं उत्पादन को बेचने के लिए आप ऐलोवेरा मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों से कॉन्ट्रैक्ट कर सकते हैं. हालांकि एलोवेरा को आप मंडी में भी सीधे बेच सकते हैं. अब बात करें एलोवेरा प्रोसेसिंग प्लांट की तो इसके लिए लगभग 3 से 5 लाख रुपये का निवेश करना पड़ेगा. जिसमें कच्चे माल के अलावा लेबर चार्ज और मशीनों का खर्च शामिल है. 

कमाई कितनी होगी?

बाजार में एलोवेरा हैंड वॉश शॉप, एलोवेरा जूस, क्रीम, शैम्पू जैल समेत कई उत्पादों की अच्छी मांग है. इसके अलावा एलोवेरा का उपयोग मेडिकल, कॉस्मेटिक तथा फार्मास्युटिकल जैसे क्षेत्रों में होता है. एलोवेरा प्रोडक्ट निर्माण करके आप 50 हजार रुपये अधिक की हर महीने कमाई कर सकती हैं, जो साल दर साल बढ़ती जाती है. 

English Summary: Start Aloe Vera product manufacturing business in 50 thousand, it will earn tremendous money every month

Like this article?

Hey! I am श्याम दांगी. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News