1. ग्रामीण उद्योग

Agriculture Business Idea: घर की छत से शुरू करें ये बिजनेस, होगी बेहतर कमाई

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Agriculture Business Idea

Agriculture Business Idea

अधिकतर लोग जिंदगी का आधा हिस्सा नौकरी करते हुए गुजार देते हैं. कई बार उनके मन में अपना बिजनेस (Business) शुरू करने का ख्याल आता है, लेकिन आइडिया, संसाधन और पैसों की कमी के कार बिजनेस शुरू नहीं कर पाते हैं. ऐसे में आज हम एक ऐसा बिजनेस आइडिया (Business Idea) लेकर आए हैं, जिसे शुरू करना बहुत आसान है.

इस बिजनेस को बहुत कम पूंजी (Low Investment Business Idea) में शुरू किया जा सकता है. इसके साथ ही आपको किसी बड़ी जगह की भी जरूरत नहीं पड़ेगी. हम जिस बिजनेस की बात कर रहे हैं, उसे आप अपनी घर की छत से शुरू कर सकते हैं, जिसे रूफटॉप फार्मिंग (Rooftop Farming) कहा जाता है है. आइए आपको रूफटॉप फार्मिंग के बिजनेस (Rooftop Farming Business ) की जानकारी देते हैं.

घर की छत पर उगाएं सब्जियां

अगर आपको फार्मिग (Farming) करने का शौक है, तो आप रूफटॉप फार्मिंग (Rooftop Farming) के जरिए अपनी घर की छत पर सब्जियां (Ghar Ki Chat Par Kheti) उगा सकते हैं. अगर आप चाहें, तो भारतीय और विदेशी, दोनों तरह की सब्जियां उगा सकते हैं. हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है, जिसके अनुसार अजमेर के रहने वाले एक व्यक्ति ने घर की छत पर कई तरह की सब्जियां उगाईं हैं. वह इस बिजनेस से बहुत अच्छी कमाई (Very Good Income from Business) कर रहे हैं. उन्हें और उनके परिवार को ऑर्गेनिक सब्जियां (Organic Vegetables) भी प्राप्त हो रही हैं. बता दें कि सेहत के लिए ऑर्गेनिक सब्जियां (Organic Vegetables) बहुत फायदेमंद होती हैं.

ऐसे करें घर की छत पर खेती

आपको बता दें कि घर की छत पर हाइड्रोपोनिक खेती (Hydroponic Farming) के जरिए सब्जियां उगाई जा सकती हैं. यह एक इजरायली तकनीक है, जिसके तहत सब्जियां उगाने के लिए मिट्टी की जरूरत नहीं होती है, बल्कि सिर्फ पानी से खेती की जाती है. इसमें खाद की जगह सूखे नारियल के छिलकों की जरूरत होती है. इन छिलकों का उपयोग कोकोपीट उसी तरह किया जाता है, जैसे नारियल की भूसी और खाद से तैयार की गई मिट्टी होती है. इसी में सब्जियां उगाई जाती हैं.

ये सब्जियां उगाना है आसान

आप खेती के इस तकनीक में कई तरह की सब्जियां उगा सकते हैं. इनमें मेथी, पुदीना, बैंगन, पालक, टमाटर, फूलगोभी, शिमला मिर्च और भिंडी आदि शामिल हैं. इसके अलावा आप देसी टमाटर और तोरी भी उगा सकते हैं.  खास बात ये है कि इसमें मिट्टी की जगह पानी का उपयोग किया जाता है, लेकिन पानी बर्बाद नहीं होता है. अन्य खेती की तकनीक की तुलना में सिर्फ 10% पानी की जरूरत पड़ती है.

सरकार करेगी मदद

खास बात यह भी है कि केंद्र सरकार (Central Government) की तरफ से ऑर्गेनिक खेती (Organic Vegetables) को बढ़ाने के लिए कई तरह के प्रयास किए जा रहे हैं. आपको सरकार तकनीकी और वित्तीय मदद देती है. मौजूदा समय़ में लोगों के पास आर्गेनिक खेती (Central Government) की जानकारी काफी कम है. ये भी कम लोग जानते हैं कि घर की छत पर सब्जियां उगाकर अच्छी कमाई की जा सकती है. सरकार ने आर्गेनिक खेती (Organic Vegetables) को बढ़ावा देने के लिए परंपरागत कृषि विकास योजना लागू की है. इसमें ऑर्गेनिक खेती के लिए प्रति हेक्टेयर 50 हजार रुपए दिए जाते हैं. कुछ सम पहले कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा था कि केंद्र सरकार (Central Government) ने परंपरागत खेती को बढ़ावा देने के लिए 2015-16 से 2019-20 तक 1632 करोड़ रु आवंटित किए हैं.

सरकारी पोर्टल पर मिलेगी जानकारी

ये सारी जानकारी देने के लिए सरकार ने जैविक खेती पोर्टल की शुरुआत की है. आप https://www.jaivikkheti.in पर जाकर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. यहां से आपको सारे सवालों का जवाब मिल जाएगा.

English Summary: Make better profit by growing vegetables on the roof of the house

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News