1. ख़बरें

Tomato Price hike: टमाटर की मंहगाई से कब मिलेगी राहत? पढ़िए पूरी खबर

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Tomato Price Hike

Tomato Price Hike

इस वक्त महंगाई ने आम आदमी पर चौतरफा अटैक किया है. अभी शायद ही कोई ऐसी चीज है, जिनकी कीमत में बढ़ोत्तरी नहीं हुई है. इसके चलते एक बार फिर आम आदमी की जेब प्रभावित होने वाली है. मौजूदा वक्त में पेट्रोल-डीजल की कीमत लगातार बढ़ रही हैं.

ऐसे में अब हरी सब्जियों की कीमत भी आम आदमी की कमर तोड़ दी है. अगर टमाटर की बात करें, तो सबसे ज्यादा टमाटर की कीमत (Tomato Price hike) में बढ़ोत्तरी हुई  है.

आपको बता दें कि कई शहरों में टमाटर की कीमत (Tomato Price hike) 100 रुपए के पार हो गई है. इस संबंध में मुंबई के कुर्ला सब्जी मंडी के विक्रेताओं का कहना है कि टमाटर की कीमत (Tomato Price hike) में इतनी बढ़ोतरी इसलिए हो रही है, क्योंकि बीते दिनों बेमौसम बारिश ने खेती पर काफी बुरा प्रभाव डाला है. इस वजह से आवक प्रभावित हुई है और बाजार में डिमांड जस की तस है.

टमाटर की कीमतों में वृद्धि से परेशान लोगों को इसके सस्ता होने का इंतजार है, लेकिन हालात को देखते हुए जल्दी राहत मिलने के आसार नहीं हैं. आल इंडिया वेजिटेबल ग्रोअर्स एसोसिएशन के प्रेसिडेंट श्रीराम गाडगिल ने कहा है कि नई फसल दिसंबर के अंत तक आएगी तब जाकर राहत मिलेगी. हालांकि, नई फसल लगाई गई है, जिसमें फल लगने में अभी वक्त है.

केंद्र सरकार की ऑनलाइन मंडी ई नाम के मुताबिक, अभी महाराष्ट्र में किसान 3,000 से 3050 रुपए प्रति क्विंटल के रेट पर थोक में टमाटर बेच रहे हैं. सब्जी बेचने वालों की मानें, तो बीते महीने टमाटर 30 से 40 प्रति किलो मिल रहे थे, लेकिन अब 80 से 100 रुपय प्रति किलो मिल रहा है. इसके साथ ही ईंधन की कीमतों में तेजी से वृद्धि हुई है.

टमाटर की मिलेगी बंपर पैदावार (Tomato will get bumper yield)

ऐसा माना जा रहा है कि टमाटर की नई फसल अच्छी होगी. अगर मौसम सही रहा, तो उपज ज्यादा मिलेगी. बता दें कि किसान इतना महंगा टमाटर नहीं बेच रहे, वो 35 से 40 रुपए किलो बेच रहे हैं, लेकिन बिचौलिए और रिटेलर बाढ़ और बारिश की वजह से मुनाफा कमा रहे हैं. इसकी वजह से महंगाई बढ़ रही है.

ये खबर भी पढ़ें: टमाटर की फसल में जड़-गांठ सूत्रकृमि की रोकथाम

अगस्त में टमाटर की कीमत (Tomato price in august)

जानकारी के लिए बता दें कि अगस्त के शुरुआती दिनों में टमाटर की कीमत (Tomato Price hike) सिर्फ 2 से 3  रुपए किलो थी. तब भी टमाटर 30 से 40 रुपए से हिसाब से खरीदना पड़ रहा था. 

ऐसे में महाराष्ट्र के औरंगाबाद पैठण बाजार में टमाटर की सही कीमत न मिलने से किसान काफी परेशान हैं. इस कारण कुछ किसानों ने ट्रक से भरा टमाटर सड़क किनारे फेंक दिया. वहीं, नासिक के येवला में किसान भी टमाटर सड़क पर फेंक रहे हैं.

English Summary: Tomato price hike after petrol and diesel

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters