1. लाइफ स्टाइल

नीम के सेवन से होते हैं ये हैरान कर देने वाले फायदे

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा

Neem

नीम एक औषद्यीय पौधा हैं जो तत्वों से भरपूर माना जाता हैं. इसका स्वाद भले ही कड़वा होता हैं पर इसके फायदे अमृत के समान हैं जोकि इसके कड़वाहट को भी मिठास में तब्दील कर देते हैं. यह पेट से लेकर शरीर के हर अंग की समस्या के लिए एक रामबाण बूटी है आज हम अपने इस लेख में नीम के ऐसे अद्भुत फायदों से आपको रूबरू करवाएंगे जिनके बारे में ज्यादातर लोगों को नहीं पता, तो आइए जानते हैं विस्तार से नीम के फायदों के बारे में........

पेट के कीड़े (Stomach worm)

पेट के कीड़ों को खत्म करने के लिए नीम के पत्तों के रस में शहद और काली मिर्च अच्छे से मिलाकर पिए.

कान दर्द (Ear Problem)

कान में नीम का तेल डालने से कान दर्द या कान बहने की समस्या में काफी हद तक आराम मिलता है.

दाँत दर्द (Mouth Problem)

नीम दांतों के लिए भी काफी फायदेमंद होती है.नीम का दातुन नियमित रूप से करने से कीटाणु नष्ट हो जाते हैं और मसूड़े मजबूत व दांत चमकीले और निरोग होते हैं.

पीलिया (Jaundice)

पीलिया यानी जॉन्डिस में भी नीम का इस्तेमाल काफी फायदेमंद है. पीलिया के रोगी को नीम के पत्तों के रस में हल्का सा सोंठ का चूर्ण मिलाकर देना चाहिए या फिर 2 भाग नीम की पत्तियों का रस और 1 भाग शहद मिलाकर पीने से पीलिया रोग में काफी हद तक फायदा होता है.

बुखार (Fever)

रोजाना 2 नीम की पत्तिया खाने से बुखार नहीं होता हैं और आप तंदरुस्त रहते हैं.

मुहांसे (pimples)

नीम पीसकर पिम्पल पर लगाने से आराम मिलता है और त्वचा भी रोग मुक्त रहती है.

पथरी (Stone Problem)

पथरी की समस्या से बचने के लिए लगभग 150 ग्राम नीम की पत्तियों को 1 लीटर पानी में पीसकर अच्छे से उबाल लें. फिर इस पानी को ठंडा होने पर पिए. रोजाना ऐसा करने से पथरी की समस्या से राहत मिलेगी. पथरी अगर आपकी किडनी में है तो रोज नीम के पत्तों की लगभग 2 ग्राम राख पानी के साथ लें, काफी फायदा होगा.

English Summary: These are surprising benefits due to the use of neem, know how to use

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News