1. लाइफ स्टाइल

क्या करें जब घिसने लगे घुटनों की ग्रीस

Knee Pain

आज के रफ़तार भरे जीवन में किसी के पास समय नहीं है. हर कोई पैसा कमाने और अपनी ज़रुरतों को पूरा करने के लिए दिन-रात मेहनत कर रहा है. इस दौड़भाग में लोग भूल गए हैं कि उनके स्वास्थ्य का स्तर प्रतिदिन गिरता जा रहा है और उनका शरीर कमज़ोर हो रहा है.

आज लोगों का शरीर इतना कमज़ोर हो गया है वह आसानी से बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं.  बीते कुछ सालों में घुटनों की बीमीरी या घुटनों में दर्द की शिकायत बढ़ी है और आज घुटनों में दर्द की शिकायत करने वाले रोगियों से अस्पताल भरा पड़ा है. आइए जानते हैं कि घुटनों में होने वाले दर्द से कैसे बचा जा सकता है.

हमारे शरीर के हर भाग का अपना एक कार्य होता है और शरीर के उस भाग की अपनी ज़रुरतें भी होती हैं. जब हम बात घुटनों की कर रहे हैं तो आपको बता दें कि घुटने का प्रमुख कार्य होता है शरीर के वज़न को संतुलित कर हमारे चलने की क्रिया को बनाए रखना और इसके लिए घुटनों का कुछ सहयोगी अंग साथ देते हैं. इसलिए हमें यह ध्यान देना चाहिए कि ऐसा खानपान करें कि हमारे घुटनों को पोषण मिलता रहे और वह कमज़ोर न हो.

रात में न खाएं खट्टी चीज़ें (Do not eat sour things at night)

जैसे कि हम ऊपर भी बता चुके हैं कि खानपान का घुटनों से सीधा संपर्क है इसलिए क्या खाएं, यह जानने से ज़्यादा ज़रुरी है कि क्या न खाएं. रात्रि के समय खट्टी चीजें जैसे- दही, संतरा,मौसमी, नींबू, कीनू, छाछ, इमली और आम का सेवन न करें. रात के समय इनका सेवन आपके खुटनों के लिए नुकसानदेह हो सकता है.

पानी खड़े होकर न पीएं  (Do not drink water while standing)

हमारे शरीर में लगभग 70 प्रतिशत पानी होता है और यह पानी हमारे शरीर के हर भाग को क्रियाशील रखने में मदद करता है और यदि शरीर में पानी की मात्रा कम हो जाती है तो शरीर के भाग पानी जुटाने में मदद करते हैं और कईं बार पानी की कमी से शरीर डीहाईड्रेट भी हो जाता है परंतु पानी भी घुटनों को नुकसान करता है अगर उसे खड़े होकर पीया जाए इसीलिए पानी जब भी पीएं बैठ कर पीए.

Water

Water

रोजाना करें व्यायाम (Exercise Daily)

कहावत है कि अगर नईं मशीन भी हो परंतु उससे काम न लिया जाए तो पड़े-पड़े उसमें भी जंग लग जाता है. ठीक उसी तरह हमारा शरीर भी भीतर से एक मशीन की तरह ही है, जहां हर भाग का अपना एक काम होता है और यदि हाथ और पैर न चलाएं जाएं तो शरीर में जंग लग जाता है. इसलिए नित्य व्यायाम करें- दौड़ें, योगा करें.

अखरोट का सेवन (Nut Consumption)

अखरोट घुटनों का सबसे अच्छा दोस्त है. हर रोजाना कम से कम दो अखरोट खाने से घुटनों का ग्रीस बढ़ने लगता है. अखरोट में पाया जाने वाला प्रोटीन, फैट, कार्बोहाइड्रेट और विटामिन ई समेत अनेक पोषक तत्व आपके घुटनों को मजबूती प्रदान करते हैं.

हरसिंगार के पत्ते (Harsingar leaves)

हरसिंगार यानि पारिजात के फूल, पत्ते और छाल घुटनों के लिए औषधि का काम करते हैं. इस पौधे के लिए विशेष मेहनत की जरूरत नहीं पडेगी. आमतौर पर इसके पौधे हमारे घरों के आस-पास भी आराम से देखने को मिल जाते हैं. इसके सेवन से जहां जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है, वहीं घुटनों की ग्रीस प्रभावी रूप से बढ़ती है. घुटनों की ग्रीस बढ़ाने के लिए इसके पत्तों को पीस लें. फिर इसके पेस्ट को धीमी आंच पर पकाएं. पानी आधा रहने के बाद छानकर ठंडा करके पियें. ऐसा करने से घुटनों में ग्रीस की बढ़त होगी.

नारियल पानी (Coconut Water)

नारियल पानी आपकी सेहत के साथ-साथ घुटनों की सेहत के लिए रामबाण इलाज है. खाली पेट नारियल पानी पीने से घुटनों के दर्द से आराम मिलता है. नारियल पानी आपके घुटनों पर प्राकृतिक तेल की तरह काम करते हुए हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूत करता है.

English Summary: How to prevent kneeling Greece.

Like this article?

Hey! I am गिरीश पांडेय. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News