पहली बार गौशाला में किया गाय के नेत्रों का विशेष ऑपरेशन : राजस्थान

आज हम बता रहे हैं राजस्थान के गांव मंडोर की जहां एक गौशाला में विशेष प्रकार का ऑपरेशन थिएटर बना कर पांच गायों के आँखों का ऑपरेशन किया गया. यह ऑपरेशन काफी सफल रहा और उनमें से तीन गायें अब अच्छे से देख भी पा रही हैं. उनकी दृष्टि काफी हद तक सही हो गयी है. जिसे देख कर और भी लोग अपनी गायों के ऑपरेशन के लिए दूर दराज़ से यहां आ रहे हैं.  

जोधपुर के पास मंडोर की पन्नालाल गौशाला देश की पहली गौशाला है, जहां यह सुविधा शुरू की गई है. गौशाला में पिछले महीने पांच गायों के मोतियाबिंद का ऑपरेशन किया गया.

यहां क्लिक करे :अब पढ़े ऑनलाइन कृषि जागरण पत्रिका

राजस्थान पशु चिकित्सा और पशुविज्ञान विश्वविद्यालय में पिछले माह एक शिविर का आयोजन किया था जिसमें नेत्र रोग विभाग के प्रमुख सुरेश कुमार झिरवाल टीम ने ही सभी गायों का ऑपरेशन किया. उन्होंने बताया की उनकी टीम ने इससे पहले भी कई पशु, पक्षियों की आँखों का ऑपरेशन किया है लेकिन गायों में पहली बार इस तरह का ऑपरेशन किया है. और किसी गौशाला में यह ऑपरेशन होना काफी नया तजुर्बा था.

गायों के लिए अब गौशाला में ही विशेष ऑपरेशन थिएटर बनाया जा रहा है जोधपुर के पास 50 बीघे में फैली इस 145 वर्ष पुरानी गौशाला में लगभग चार हजार अपंग या बीमार गायों की देखरेख की जा रही है. यहां करीब 700 दृष्टिहीन गाये हैं. इसके अलावा यहां छह हजार कबूतर भी रह रहे हैं. गौशाला में 80 कर्मचारी हैं जो गायों की देखभाल करते हैं और उन्हें हर तरह की सुविधाएं प्रदान की जा रही हैं. .

मनीशा शर्मा, कृषि जागरण

Comments