किसानों की आय दोगुनी करने में बकरी पालन है सहायक, जानिए कैसे ?

केंद्रीय बकरी अनुसंधान संस्थान, मखदूम में केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह ने दौरा किया. उन्होंने 200 के.वी.ए के सौर ऊर्जा संयत्र का उद्घाटन किया. इस अवसर पर मंत्री जी द्वारा गरीब बकरीपालक महिलाओं को उच्च नस्ल के नर बकरे वितरित किये गए. अपने संबोधन में मंत्री महोदय ने कहा कि संस्थान के इस प्रयास से महिला सशक्तिकरण में मदद मिलेगी तथा किसानों की आय दोगुना करने की दिशा में यह एक सार्थक प्रयास सिद्ध होगा.

इस अवसर पर संस्थान के समस्त अनुभाग प्रभारी, पशुधन प्रक्षेत्र प्रभारी, वैज्ञानिक एवं कर्मचारी उपस्थित थे. संस्थान के अपने इस दौरे के दौरान मंत्री महोदय द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया. इस अवसर पर कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री जी ने संस्थान के वैज्ञानिकों को संबोधित किया और कहा कि संस्थान के वैज्ञानिक किसानों की आय दोगुनी करने में अपनी बड़ी भूमिका निभायें.

संस्थान के निदेशक डा. मनमोहन सिंह ने इस अवसर पर संक्षिप्त जानकारी देते हुए बताया कि कैसे संस्थान किसानों की आय दोगुनी करने हेतु प्रयासरत हैं.

केंद्रीय बकरी अनुसंधान संस्थान, मखदूम फराह, मथुरा के वैज्ञानिक एवं अधिकारियों द्वारा बकरी पालन के प्रत्येक पहलू पर मात्र तीन दिन में मान्य प्रमाण पत्र सहित संपूर्ण प्रशिक्षण. यह तीन दिवसीय प्रशिक्षण सी..आर.जी. के प्रशिक्षण कार्यक्रमो के संचालन के 30 वर्ष के अनुभवी श्री एस.सी.एल. गौतम, तकनीकी अधिकारी, प्रसार एवं शिक्षा द्वारा व्यावसायिक बकरी पालकों की सेवा हेतु शासन द्वारा पंजीकृत व मान्यता प्राप्त श्री राधा सर्वेश्वर विद्यालय शिक्षण संस्था में चलाया जा रहा है. उक्त प्रशिक्षण सी..आर.जी. के वैज्ञानिकों एवं तकनीकी अधिकारियों द्वारा दिया जाता है. सभी प्रयोगात्मक कार्य भी केंद्रीय बकरी अनुसन्धान संसथान में कराये जाते हैं. प्रशिक्षण उप्रान्त माया सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है.

Comments