आपके फसलों की समस्याओं का समाधान करे
  1. ख़बरें

गुजरात के किसानों के लिए खुशखबरी, साल के अंत तक आय होगी दोगुनी, जानिए कैसे?

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
FPO

FPO

इफको (IFFCO) विश्व का सबसे बड़ी उर्वरक सहकारिता संस्था है, जो समय-समय पर किसानों के हित के लिए पहल करती रहती है. इसी कड़ी में इफकों ने किसानों के लिए एक अहम फैसला लिया है. दरअसल, इफको किसान संचार लिमिटेड, नाबार्ड और एनसीडीसी के सहयोग से गुजरात में किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) स्थापित करने वाला है. बता दें कि केंद्र ने साल 2025-26 तक 10 हजार एफपीओ गठित करने का लक्ष्य तय किया है. आइए आपको इस संबंध में पूरी जानकारी देते हैं.

गुजरात में स्थापित होंगे 17 एफपीओ

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, इफको किसान इस साल के आखिर तक गुजरात में 17 एफपीओ स्थापित करेगा. वहीं कुल 5 हजार किसान इन एफपीओ से जुड़ पाएंगे. इसके अलावा, वर्ष 2025 तक 50 हजार से अधिक किसान जुड़ जाएंगे. इफको के मुताबिक, ये एफपीओ राष्ट्रीय कृषि, ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड) और राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) के सहयोग से स्थापित किए जा रहे हैं. इन्हें गुजरात के कई जिलों में स्थापित किया जाएगा. ये एफपीओ कई फसलों की जरुरतों को पूरा करेंगे. कंपनी का कहना है कि वह एक स्थायी व्यवसाय मॉडल बनाने के लिए किसानों को सौंपने का इरादा रखती है.

किसानों को फॉरवर्ड लिंकेज मुहैया कराया जाएगा

यह कृषि-तकनीक के उपयोग, पीओपी, फसल कटाई के बाद का प्रबंधन, प्राथमिक प्रसंस्करण, गुणवत्ता मानकों आदि पर प्रशिक्षण देगा. इसके साथ ही किसान फॉरवर्ड लिंकिंग कार्यक्रम द्वारा एफपीओ एवं किसानों को बाजार संपर्क समर्थन की सुविधा मिलेगी. इसके अलावा कंपनी की तरफ से किसानों को फॉरवर्ड लिंकेज मुहैया होगा, जिससे फसल की पैदावार का बेहतर दाम मिल सके.

इफको किसान के 4 प्रमुख कार्यक्षेत्र

  • स्मार्ट कृषि समाधान प्रदाता

  • पशु चारा व्यवसाय

  • कृषि तकनीक

  • दूरसंचार और कॉल सेंटर सेवाएं (कंपनी ग्रीन सिम, इफको किसान कृषि मोबाइल ऐप, किसान कॉल सेंटर जैसी सुविधाएं प्रदान करती है.)

फरवरी 2020 में हुई थी शुरुआत

केंद्र सरकार ने छोटे सीमांत व भूमिहीन किसानों की आय बढ़ाने के लिए एफपीओ की शुरुआत की, ताकि इससे जुड़कर किसानों की आय में वृद्धि हो सके. इसके साथ ही बाजार संपर्क बढ़ाने में सहायता मिल सके. इस बात को ध्यान में रखते हुए 10 हजार एफपीओ के गठन एवं संवर्धन नामक योजना शुरू की.

इस योजना की शुरुआत देश के पीएम नरेंद्र मोदी ने 29 फरवरी 2020 को चित्रकूट (उत्तर प्रदेश) में करीब 6865 करोड़ रुपए के बजटीय प्रावधान के साथ की. देश का हर एक किसान एफपीओ से जुड़कर कृषि क्षेत्र में अपने जीवन को बेहतर बना सकते हैं.

(खेती से जुड़ी अन्य सभी जानकारी के लिए कृषि जागरण की हिंदी वेबसाइट पढ़ते रहिए.)

English Summary: iffco to set up 17 fpo in gujarat

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News