1. ग्रामीण उद्योग

शुरू करिए पोल्ट्री बिजनेस, नाबार्ड दे रहा 75% का लोन

KJ Staff
KJ Staff

Poultry Farming

किसान भाइयों इस समय सर्दी का सीजन चल रहा है. इस सीजन में अंडे और चिकन की डिमांड बढ़ जाती है और यह पॉल्‍ट्री बिजनेस करने का भी यह बहुत सही समय है अगर आप कोई अपना बिजनेस स्टार्ट करना चाहते हैं तो पॉल्‍ट्री बिजनेस शुरू कर सकते हैं यह ऐसा बिजनेस है, जिसमें सरकार भी पूरा सपोर्ट करती है. सरकारी एजेंसी (नाबार्ड नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्‍चर एंड रूरल डेवलपमेंट) द्वारा पॉल्‍ट्री बिजनेस का पूरा सपोर्ट किया जाता है. इसके लिए जरुरत है आपको थोड़ी सम्बंधित जानकारियों की.

आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि पोल्ट्री बिजनेस कैसे शुरू करना है और इसे शुरू करने के लिए आप नाबार्ड से किस प्रकार मदद ले सकतें हैं.आपको बता दें पॉल्‍ट्री बिजनेस दो तरह का होता है. अंडों का बिजनेस और चिकन का यदि आप अंडे का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको लेयर मुर्गियां पालनी होगी और आप चिकन का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको ब्रायलर मुर्गियां पालनी होंगी.

कितने में शुरू होगा यह बिजनेस (How much will this business start)

नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्‍चर एंड रूरल डेवलपमेंट (नाबार्ड) द्वारा तैयार किए गए मॉडल प्रोजेक्‍ट्स के मुताबिक यदि आप पॉल्‍ट्री ब्रायलर फार्मिंग करना चाहते हैं और कम से कम 10 हजार मुर्गियों से बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको 4 से 5 लाख रुपए का इंतजाम करना होगा, जबकि बैंक आपको लगभग 75 फीसदी यानी कि 27 लाख रुपए तक का लोन मिल जाएगा। यदि आप 10 हजार मुर्गियों से पॉल्‍ट्री लेयर फार्मिंग करना चाहते हैं तो आपको 10 से 12 लाख रुपए का इंतजाम करना होगा और बैंक आपको 40 से 42 लाख रुपए तक का लोन दे सकता है. बैंक से आसानी से लोन लेने के लिए नाबार्ड कंसलटेंसी सर्विस की सहायता भी ली जा सकती है.

कमाई (Income)

नाबार्ड के मुताबिक, एक स्‍वस्‍थ चूजा 16 से 18 रुपए में मिल जाता है और ब्रायलर चूजा अच्‍छा व पौष्टिक आहार मिलने पर 40 दिन में एक किलोग्राम हो जाता है, जबकि लेयर ब्रिड के चूजे 4 से 5 महीने में अंडे देना शुरू कर देते हैं और औसतन डेढ़ साल तक लगभग 300 अंडे देते हैं. नाबार्ड के मॉडल प्रोजेक्‍ट के मुताबिक ब्रायलर फार्मिंग में आप लगभग 70 लाख रुपए तक कमाई कर सकते हैं, जबकि आपका कुल खर्च 64 से 65 लाख रुपए तक हो सकता है, जिसमें चूजे की खरीद, दाना, दवाइयां, इंश्‍योरेंस, शेड का किराया, बिजली का बिल, ट्रांसपोर्टेशन आदि शामिल है यानी कि आप 4 से 5 महीने में लगभग 15 लाख रुपए कमाई कर सकते हैं.

 

अंडों से कमाई (Egg earning)

यदि आप 10 हजार मुर्गियों से ब्रायलर फार्मिंग का बिजनेस शुरू करते हैं तो आप पहले साल में लगभग 35 लाख रुपए का अंडे बेच सकते हैं साथ ही, एक साल बाद मुर्गियों को चिकन के लिए बेच दिया जाता है। इससे लगभग 5 से 7 लाख रुपए की आमदनी होगी. जबकि कुल खर्च लगभग 25 से 28 लाख रुपए होगी और साल भर में 12 से 15 लाख रुपए प्रॉफिट कमा सकते हैं. आगे के सालों में आपकी कैपिटल कॉस्‍ट कम हो जाती है.

स्‍पेस की जरूरत (Need space)

पॉल्‍ट्री फार्मिंग के लिए स्‍पेस की खास जरूरत होती है. हालांकि यह जरूरी नहीं कि आप किसी विकसित इलाके में ही पॉल्‍टी फार्मिंग करें, क्‍योंकि यह आपके लिए महंगा साबित हो सकता है, लेकिन इतना जरूर है कि पॉल्‍ट्री फार्म शहर के निकट ही हो और वहां तक वाहनों का आना जाना आसान हो. कितने स्‍पेस की जरूरत पड़ेगी, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितनी मुर्गियों से अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं. माना जाता है कि एक मुर्गी को कम से कम 1 वर्ग फुट की जरूरत पड़ती है और यदि यह स्‍पेस 1.5 वर्ग फुट हो तो अंडों या चूजों के नुकसान की आशंका काफी कम हो जाती है. इसके अलावा फार्मिंग ऐसी जगह पर करनी चाहिए, जहां बिजली का पर्याप्‍त इंतजाम होना चाहिए.

English Summary: Start Poultry Business, NABARD Offering 75% Loan ...

Like this article?

Hey! I am KJ Staff. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News