गन्ना किसानों और चीनी मीलों के लिए युपी सरकार का बड़ा कदम

गन्ना किसानों के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने खजाना खोल दिया है ऐसे में पहले भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गन्ना किसानों और सभी चीनी मीलों के लिए पहले भी कई बड़े फैसले लिए गए थे और अनुदान दिया गया था पर अब से फिर सरकार ने घोषणा करते हुए कहा है कि सभी गन्ना किसानों के बकाया राशि को जल्द से जल्दी निपटा दिया जाएगा |पेराई सत्र  2017-18 के गन्ना किसानों के बकाया भुगतान के लिए 5535करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया है और गन्ना किसानों को बकाया भुगतान के लिए चीनी मीलों को खरीद के सापेक्ष साढ़े चार रुपये प्रति क्विंटल कि दर से 500 करोड़ रुपये कि वित्तीय सहायता देगी |

वहीँ चीनी मीलों के लिए गन्ना किसानों को 30 प्रतिशत बकाया भुगतान कर देने वाली चीनी मीलों को सस्ते दर पर चार हजार करोड़ रुपये कर्ज देने का फैसला किया है इस फैसले से चौबीस लाख किसानों को लाभ मिलेगा | इस प्रस्ताव को केबिनेट ने भी मुहर लगा दी है|

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए कहा कि चीनी मीलों ने मौजूदा पेराई सत्र में 1111.90 लाख टन गन्ना ख़रीदा है यह वित्तीय सहायता कि धनराशि पेराई सत्र में चीनी मीलों के देय गन्ना मूल्य के सापेक्ष समायोजित करते हुए सीधे किसानों के खाते में दी जाएगी| सरकार ने वित्तीय सहायता प्राप्त करने वाली चीनी मीलों को पेराई सत्र में देय गन्ना मूल्य एवं अन्य देयकों के सम्पूर्ण भुगतान के लिए 30 नवम्बर कट ऑफ  डेट तय कि है योगी ने कहा कि देश में उत्तर प्रदेश पहला ऐसा राज्य है जो गन्ना किसानों को तय समय पर उनके सभी बकाया राशि मुहैया के साथ साथ किसानों के लिए सफलता के नए द्वार भी खोल रहा है और चीनी मीलों को भी तय समय पर कर्ज और कई योजनाओं के माध्यम से सपोर्ट कर सके.

Comments