News

धानुका एग्रीटेक ने आयोजित किया कृषक कल्याण सम्मलेन

भारत की अग्रणी कृषि रसायन कंपनी, धानुका ऐग्रिटेक ने पश्चिम चंपारण जिले के पिपरा कोठी स्थित किसान विकास केंद्र में कृषक कल्याण सम्मेलन आयोजित किया. सम्मेलन में किसानों की आय दोगुनी करने से सम्बंधित प्रधानमंत्री 2022 तक के लक्ष्य को हासिल करने में सहयोग के लिए विभिन्न रास्तों पर चर्चा हुयी. केन्द्रीय कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्री, राधा मोहन सिंह सम्मलेन में मुख्य अतिथि रहे.

अपने संबोधन में कृषि मंत्री ने फसल की पैदावार बढ़ाने के लिए किसानों को आधुनिक कृषि तकनीकों के प्रयोग की सलाह दी. बिहार के पर्यटन मंत्री प्रमोद कुमार और डॉ. राजेंद्र प्रसाद केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. आर.सी.श्रीवास्तव भी सम्मलेन में उपस्थित थे.

धानुका ऐग्रिटेक के निदेशक, मृदुल धानुका ने विभिन्न तकनीकों के बारे में बताया जिनका प्रयोग किसान बेहतर पैदावार के लिए कर सकते हैं. सम्मेलन में विभिन्न सरकारी पदाधिकारी, राज्य के कृषि विज्ञान केंद्र  और कृषि विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक, तथा कृषि विभाग के अधिकारियों के साथ-साथ स्थानीय अधिकारीगण भी उपस्थित थे. धानुका ऐग्रिटेक ने आधुनिक प्रौद्योगिकियों के सहारे फसल की पैदावार बढाने के लिए किसानों को सम्मानित भी किया. किसानों को सेफ्टी किट्स दिए गये.

केंद्रीय कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्री, राधा मोहन सिंह ने कहा कि, “कृषि क्षेत्र को सुदृढ़ करने और किसानों की आमदनी दोगुनी करने में मदद के लिए सरकार ने कई कदम उठाये हैं. हम धानुका ऐग्रिटेक लिमिटेड और इस तरह की अन्य कंपनियों द्वारा किये गए कार्यो की सराहना करते हैं, जो नवोन्मेषी कदम उठाकर किसानों को कृषि पद्धतियों में सुधार के लिए सहयोग कर रही हैं. किसानों की प्रतिक्रिया और बेहतर पैदावार के लिए नई तकनीकें सीखने में उनकी दिलचस्पी देख कर काफी बढ़िया लगा.”

धानुका ऐग्रिटेक के निदेशक, मृदुल धानुका ने कहा कि, “किसानों की जमीनी समस्याओं को समझने और उनकी आजीविका में सुधार के बेहतर समाधान उपलब्‍ध कराने के लिए धानुका ऐग्रिटेक लिमिटेड भारत के विभिन्न हिस्सों में नियमित अंतराल पर इस तरह के सम्मलेन का आयोजन करता है. बिहार में हमने पहली बार कृषक कल्याण सम्मलेन आयोजित किया है और हमें किसानों के समर्थन से बेहद खुशी हो रही है. राधा मोहन सिंह की उपस्थिfत से हम सम्मानित महसूस कर रहे हैं, जिन्होंने कृषि पैदावार बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण जानकारियाँ साझा की हैं.”

इस सम्मलेन के दौरान धानुका ऐग्रिटेक लिमिटेड ने डीकेकेएनटी (धानुका खेती के नई तकनीक) के बारे में भी बताया जो किसानों के प्रशिक्षण एवं शिक्षण के माध्यम से आद्योपांत कृषि समाधान उपलब्‍ध कराने पर केन्द्रित है. इस दृष्टिकोण के साथ, कंपनी का लक्ष्य फसल के नुकसान को न्यूनतम करना और पैदावार बढ़ाना है. इस दिशा में कंपनी मृदा परीक्षण, फसल बीमा, संकर बीजों का प्रयोग, कृषि रसायनों का विवेकपूर्ण उपयोग और पानी की बचत, आदि जैसी पद्धतियाँ लागू करना पर फोकस करती है.

इस तरह की पहलों के माध्यम से धानुका ऐग्रिटेक लिमिटेड 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने की प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी की परिकल्पना को साकार करने के दिशा में काम कर रहा है. विगत समय में कंपनी ने भारत के विभिन्न हिस्सों में इस तरह के अनेक सेमिनारों का आयोजन किया है.



English Summary: Krishak Kalyan Sammelan organized by Dhanuka Agritech

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in