Search results:


वैज्ञानिक विधि से कपास की खेती करने का तरीका

कपास एक ऐसा फसल है जिसका देशभर में इस्तेमाल किया जाता हैं. कपास यानि रूई को उत्पादन संबंधी रूप में ‘स्वेत स्वर्ण’ के नाम से भी जाना जाता है. ये कई काम…

यूरिया और डीएपी असली है या नकली ?, जानिए कैसे पहचानें

ज्यादातर किसान डीएपी, यूरिया आदि उर्वरक डालकर ही बुवाई करते हैं. आसमान छूती खाद की कीमतों के बीच किसान को नुकसान तब होता है जब ज्यादा से ज्यादा खाद डा…

विभिन्न जलवायु क्षेत्रों के लिए अधिक पैदावार एवं गुणवत्ता युक्त 'चने' की किस्म और तकनीक तैयार

दिल्ली का भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान पूरे भारत में हरित क्रंति का केन्द्र माना जाता है, जहां वैज्ञानिक प्रयासों के बूते उच्च पैदावार वाली किस्मों को…

खेती मे अरबों का नुकसान - कीटनाशकों के एक चौथाई नमूने की जांच फेल

फसलों को कीटों से बचाने के लिए कीटनाशकों का प्रयोग किया जाता है. कम्पनियां अपने ब्रांडेड उत्पादों के ज़रिये किसानों को कीटों से छुटकारा दिलाने हेतु अप…

बेरोज़गारों को रोज़गार दे रही है 'टेरेस गार्डनिंग'

वर्तमान में बेरोज़गारी देश का सबसे बड़ा और ज्वलंत मुद्दा है. यह मुद्दा इतना अहम हो चुका है कि कोई भी राजनैतिक दल इस मुद्दे पर राजनीति करने से पीछे नही…

नकली कृषि रसायनों को बाजार से दूर रखने की मुहिम शुरू

हम किसानों की आय को दोगुना करने की बात करते हैं और इसी के साथ सरकार भी यही लक्ष्य लेकर चल रही है कि किसानों की आय को बढ़ाना है लेकिन यह तब तक संभव नहीं…

ग्रीष्मकालीन सब्जियों का समेकित कीट प्रबंधन

ग्रीष्मकालीन सब्जी भारत के विभिन्न भागों जैसे उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश, राजस्थान, पश्चिम बंगाल, बिहार एंव छत्तीसगढ में प्रमुख रूप से उगाई जाती है. ग्री…

आजादी के 70 सालों के बाद भी किसान क्यों है ख़ुदकुशी करने को मजबूर?

देश में बड़े-बड़े उद्योग लग रहें हैं, सड़कों पर काम किया जा रहा है, शहरों में गगनचुम्बी इमारतें विकास की गवाही दे रही हैं. मॉल, कंप्यूटर, टीवी और 4जी…

ज़ायटोनिक-एम से मिट्टी और फसल की पैदावार में सुधार

ज़ायडेक्स ने मृदा सुधार के लिए जैविक उर्वरक तकनीकी विकसित की है जो मृदा की बनावट और उसकी संरचना में सुधार तथा जैविक क्रिया को बढ़ाएगी. यह तकनीकी मृदा मे…