MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

फसल सुरक्षा हेतु ग्रासिया रासायनिक कीटनाशक है No.1, जानिए क्या है इसकी ख़ासियत

मौसम में बदलाव के कारण कई तरह के कीटों का प्रकोप फसलों पर बढ़ जाता है, जिससे फसलें पूरी तरह से बर्बाद हो जाती है. फसलों को कीट के प्रकोप से बचाने हेतु गोदरेज एग्रोवेट लिमिटेड ने ग्रासिया रासायनिक कीटनाशक लॉन्च किया है. जो फसलों को कीटों से पूर्ण सुरक्षा प्रदान करेगा.

स्वाति राव
Gracia Pesticide
Gracia Pesticide

फसलों पर बढ़ते कीटों के प्रकोप से किसानों की मेहनत तो बर्बाद होती ही हैं साथ ही फसलों का भी भारी नुकसान होता है. जिस वजह से मेहनत के साथ–साथ मुनाफ भी नहीं मिल पता है.

ऐसे में किसानों को कीटों के प्रकोप से बचाव के लिए गोदरेज एग्रोवेट लिमिटेड ने हाल ही में भारतीय बाजार में ग्रासिया रासायनिक कीटनाशक (Gracia Chemical Insecticide) को लॉन्च करने की घोषणा की. यह कीटनाशक फसलों में कीटों के प्रकोप से बचाव करेगा साथ ही फसलों को सुरक्षा भी प्रदान करेगा.

गोदरेज एग्रोवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक द्वारा मिली जानकारी (Information Received By The Managing Director Of Godrej Agrovet Limited)

इस बात की जानकारी गोदरेज एग्रोवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक बलराम सिंह यादव ने लॉन्च के दौरान देते हुआ कहा कि “हनाबी के बाद, ग्रासिया निसान केमिकल्स का दूसरा उत्पाद है जिसे हम सभी देशों में पेश कर रहे हैं. भारतीय फसल सुरक्षा बाजार का अनुमान लगभग  25,000 करोड़ रूपए है, जिसमें कीटनाशकों का योगदान 39 फीसदी है. ग्रासिया का लॉन्च हमें इस विशेष उप-खंड में अपनी उपस्थिति को मजबूत करने की पेशकश करेगा, जो बाजार में 1500 करोड़ रुपये का अवसर होने का अनुमान है. यह कीटनाशक जापान के निसान केमिकल कॉरपोरेशन (Nissan Chemical Corporation ) द्वारा खोज और विकसित किया गया एक पेटेंट रसायन है. इसे गोदरेज एग्रोवेट के सहयोग से जल्द ही भारत में पेश किया जाएगा.

 

साथ ही उन्होंने कहा कि "ग्रेसिया उपन्यास और पेटेंट रसायन के साथ एक व्यापक स्पेक्ट्रम उत्पाद है जिसमें सक्रिय संरक्षण की शक्ति शामिल है"."यह एक ऐसा समाधान है जो विभिन्न प्रकार की दलहन, गर्म मिर्च, कोल फसल, टमाटर, बैंगन और भिंडी का उत्पादन करने वाले खेतों में लार्वा, कैटरपिलर और थ्रिप्स जैसे चबाने और चूसने वाले कीटों के उत्कृष्ट नियंत्रण को प्रदर्शित करता है. यह रासयनिक कीटनाशक कीट का तंत्रिका तंत्र है.

इसे पढ़ें- नीम की पत्तियों या बीज को कीटनाशक के रूप में फसलों पर प्रयोग कैसे करें?

वहीँ निसान केमिकल कॉरपोरेशन इंडिया के एमडी राज कुमार यादव ने भी इस सन्दर्भ में कहा कि “ग्रेसिया की लॉन्चिंग गोदरेज एग्रोवेट के साथ हमारे जुड़ाव के एक दशक का प्रतीक है. हमें विश्वास है कि हनाबी की तरह ग्रासिया भी बाजार में व्यापक रूप से अपनाएगी"

ग्रासिया के उपयोग से कीटों का नियंत्रण (Pest Control Using Gracia)

ग्रासिया लगाने के कुछ घंटों के भीतर, तंत्रिका तंत्र के अतिउत्तेजना के कारण मिरगी के दौरे के कारण कीट मर जाते हैं. इसकी क्रिया का एक नया तरीका है और यह कीटों को नियंत्रित करने में सक्षम है. इसमें कार्रवाई का एक नया तरीका है और मौजूदा के लिए किसी प्रकार के प्रतिरोध का प्रदर्शन करने वाले कीड़ों को नियंत्रित करने में सक्षम है

English Summary: Crops will get complete protection from pests with insecticide Gracia Published on: 23 March 2022, 05:33 PM IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News