Corporate

किसानों के लिए बीएएसएफ ने लॉन्च किया नया फफूंदनाशक

भारत में बागवानी के तहत उगाए जाने वाले फलों में सेब का सबसे अधिक उत्पादन किया जाता है. यही वजह है कि विश्वभर में भारत उन शीर्ष 10 देशों में शामिल है जहां बड़े पैमाने पर सेब की बागवानी की जाती है. सेब की बागवानी में बागवानों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. बागों में कई तरह के कीट और रोगों की वजह से अक्सर यह देखा जाता है कि फसल को काफी नुकसान पहुंचता है. इस नुकसान का सीधा असर बागवानों पर पड़ता है. उन्हें न तो अच्छा उत्पादन मिल पाता है और न ही अच्छा मुनाफा. ऐसे में सेब किसानों की इस समस्या के लिए बीएएसएफ (BASF) ने एक ख़ास फफूंदनाशक पेश किया है.

भारतीय सेब किसानों को पाउडी मिल्ड्यू (powdery mildew) जैसे होने वाले सेब के रोग (apple diseases) की समस्या से ज़्यादातर जूझना पड़ता है. ऐसे में सेब के किसानों के लिए जर्मन रासायनिक कंपनी (german chemical company), बीएएसएफ ने 'सेरकाडिस प्लस' (Sercadis Plus) का नया फार्मूला पेश किया है. यह नया समाधान भारतीय सेब उत्पादकों (apple farmers) को एक कुशल स्प्रे सिस्टम उपलब्ध कराता है. इससे किसान रोग प्रबंधन के बेहतर तरीके को अपना सकते हैं.

Sercadis Plus में सक्रिय तत्व के रूप में Xemium और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रशंसित DMI (डेमिथाइलिस इनहिबिटर) मौजूद है. यह रोगों की एक विस्तृत श्रृंखला का प्रबंधन करने के लिए उपयोगी है, खासकर Apple Scab और पाउडरी मिल्ड्यू.

सेब किसानों के लिए कंपनी के अन्य उत्पाद

आपको बता दें कि बीएएसएफ किसानों की जरूरतों का ध्यान रखते हुए उन्हें पूरा करने में मदद करता है. किसानों की जरूरतों को पूरा करने के लिए कंपनी अपने ग्राहकों और भागीदारों के साथ लगातार सहयोग कर रही है जिससे किसानों की समस्याओं का समाधान निकाला जा सके. पिछले कुछ वर्षों में, सेब के बागों (apple farms) के बेहतर स्वास्थ्य के लिए बीएएसएफ ने बागवानों के लिए कई उत्पाद पेश किए. इनमें 'मेरिवॉन' (Merivon), 'साइनम' (Signum) और 'एक्रिसो' (Acriso) जैसे फफूंदनाशक (fungicides) भी शामिल हैं.

राजनीति, खेल, मनोरंजन और लाइफ़स्टाइल से जुड़ी ख़बर पढ़ने के लिए hindi.theshiningindia.com पर विज़िट करें.

 



English Summary: apple cultivation basf launched new fungicide for apple farmers

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in