MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. ख़बरें

पेस्टिसाइड्स का सुरक्षित प्रयोग करने का तरीका

देश की निरंतर बढती हुई आबादी के लिए खाद्यान्न की आवश्यकता की पूर्ति के लिए कृषि उत्पादन एवं पौध संरक्षण तकनीक की अहम् भूमिका है. अधिक कृषि उत्पादन एवं नाशी जीवों से बचाव के लिए कृषि रसायनों, कीटनाशी, कवक नाशी, शाकनाशी आदि का प्रयोग जरुरी होता जा रहा है, लेकिन उपरोक्त के असंतुलिन एवं अव्यवहारिक प्रयोगों के गंभीर दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं, जैसे –पर्यावरण पर दुष्परिणाम, जल पर दुष्परिणाम, पौधों पर दुष्परिणाम, एवं जीवों पर दुष्परिणाम आदि प्रकार परिणाम सामने आते हैं.

स्वाति राव
Uses Of Pesticides
Uses Of Pesticides

देश की निरंतर बढती हुई आबादी के लिए खाद्यान्न की आवश्यकता की पूर्ति के लिए कृषि उत्पादन एवं पौध संरक्षण तकनीक की अहम् भूमिका है. अधिक कृषि उत्पादन एवं नाशी जीवों से बचाव के लिए कृषि रसायनों, कीटनाशी, कवक नाशी, शाकनाशी आदि का प्रयोग जरुरी होता जा रहा है, लेकिन उपरोक्त के असंतुलिन एवं अव्यवहारिक प्रयोगों के गंभीर दुष्परिणाम सामने आ रहे हैं, जैसे –पर्यावरण पर दुष्परिणाम, जल पर दुष्परिणाम, पौधों पर दुष्परिणाम, एवं जीवों पर दुष्परिणाम आदि प्रकार परिणाम सामने आते हैं.

उपरोक्त हानिकारक प्रभावों को देखते हुए आज कृषि उत्पादन बढ़ाने के साथ – साथ पेस्टीसाइड के सुरक्षित व विवेकपूर्ण प्रयोग की आवश्यकता है जिससे पर्यावरण और जीवों के स्वस्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव लक्षित न हो सके. आइये जानते हैं अपने इस लेख में पेस्टीसाइडस के सुरक्षित व विवेकपूर्ण उपयोग के लिए किन बातों पर ध्यान देना चाहिए.

पेस्टीसाइडस के सुरक्षित व विवेकपूर्ण उपयोग में क्या करें और क्या न (Do's And Don'ts For Safe And Judicious Use Of Pesticides)

पेस्टीसाइडस खरीदते समय क्या करें (What to Do When Buying Pesticides)

  • वैधानिक पंजीकरण क्रय केंद्र से ही क्रय करें .

  • एकल प्रयोग हेतु ही संस्तुत रसायनों की उचित मात्रा में क्रय करें .

  • पाकिंग पर बैच नंबर, लेवल अदि मानकों का ध्यान रखें.

पेस्टीसाइडस खरीदते समय क्या न करें (What Not to Do When Buying Pesticides)

  • कृषि विशेषज्ञों की सलाह के बिना ही क्रय न करें .

  • अपंजीकृत केन्द्रों से ने लें

  • समस्त मौसम के लिए थोक में क्रय न करें

  • खुले पैकेट क्रय न करें .

भंडारण के समय क्या करें (What To Do During Storage)

  • अलग- अलग रसायनों अलग – लाग रूप में रखें

  • बच्चों, जानवरों की पहुँच से दूर रखें

  • सधी धुप व वर्षा से भंद्रण का बचाव करें.

भंडारण के समय क्या न करें (What Not To Do During Storage)

  • घर और बच्चों के आसपास संग्रहण न करें.
  • कीटनाशी और शाकनाशी का संग्रहण एक साथ न करें.
  • मूल पैकिंग से खोल कर न रखें

स्प्रे हेतु घोल बनाने के समय क्या करें (What To Do While Preparing The Solution For The Spray)

  • संस्तुत मात्रा और संस्तुत विधि के अनुरूप ही घोल बनाएं.

  • ग्लब्स, मास्क, आदि रक्षात्मक साधनों का ही प्रयोग करें.

  • दानेदार रसायनों का प्रयोग सीधे करें.

  • साफ़ पानी का प्रयोग करें.

स्प्रे हेतु घोल बनाने के समय क्या न करें (What Not To Do While Preparing The Solution For The Spray)

  • रसायनों को मिलाकर घोल न बनाएं

  • कीचड़युक्त पानी का इस्तेमाल न करें.

  • स्प्रे घोल का इस्तेमाल 24 घंटे के बाद न करें

  • एक ही कीटनाशक का चयन बार – बार न करें.

स्प्रे यंत्रों का चुनाव करते समय क्या करें (What To Consider When Choosing Spray Equipment)

  • उपयुक्त यंत्रों का चयन करें

  • उपयुक्त आकार के नोजल का प्रयोग करें

  • कीटनाशी और शाकनाशी हेतु अलग –अलग स्प्रे का प्रयोग करें.

स्प्रे यंत्रों का चुनाव करते समय क्या न करें (What Not To Do While Choosing Spray Equipment)

  • छतिग्रस्त स्प्रे का चयन न करें

  • मूह से नोजल को न खोले और न ही साफ करें.

स्प्रे करते समय सावधानियां हेतु क्या करें (What To Do When Spraying)

  • स्प्रे को शाम के समय में ही करें .

  • स्प्रे करते समय हाथ में ग्लब्स, मास्क आदि चीजों को पहन कर रखें.

  • वायु की गति के अनुरूप ही स्प्रे करें.

  • स्प्रे करने से पहले पौधों में लगे फल और सब्जियों को तोड़ लें.

स्प्रे करते समय सावधानियां हेतु क्या न करें (Do's And Don'ts For Precautions While Spraying)

  • अधिक धुप और बादलों के समय न करें

  • फूल की अवस्था में में सप्री न करें

  • स्प्रे के समय तम्बाकू, धूम्रपान अदि का सेवन न करें .

स्प्रे के बाद सावधानियां हेतु क्या करें (What To Do After The Spray)

  • बचे हुए घोल को बंजर जगह में बर्बाद न करें

  • प्रयोगों में लिए गए कंटेनर, पैकिंग को नष्ट करें .

  • स्प्रे के एक सप्ताह बाद ही उत्पादों की तुडाई करें

  • सपर्य के बाद हाथ और मूह को अच्छी तरह साफ़ करें .

स्प्रे के बाद सावधानियां हेतु क्या न करें (Do's And Don'ts For Precautions After Spray)

  • बचे हुए घोल और सामग्री को मिटटी में न मिलाएं

  • बचे हुए घोल का दोबारा प्रयोग न करें

  • स्प्रे के पश्चात नहाने/ सफाई से पूर्व कोई पेय या खाने की चीजों का प्रयोग न करें.

English Summary: How to use pesticides safely Published on: 04 November 2021, 12:36 PM IST

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News