1. ग्रामीण उद्योग

Agriculture Business Idea: कम निवेश में शुरू करें मधुमक्खी पालन का बिजनेस, सरकार भी देगी 85% तक की सब्सिडी

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Beekeeping Business Idea

Beekeeping Business Idea

अगर आपको नौकरी खो जाने का डर सता रहा है और इसलिए आप अतिरिक्त कमाई के लिए बिजनेस (Start Own Business) शुरू करना चाहते हैं, तो आज हम आपके लिए एक शानदार कृषि संबंधित बिजनेस आइडिया (Agriculture Business Idea)  लेकर आए हैं.

इससे आप कम से कम पैसों में (Small level business)  आसानी से शुरू कर सकते हैं. बता दें कि कृषि क्षेत्र का बिजनेस (Agriculture Business) ऐसा है,  जहां लाभ कमाने की आपार संभावनाएं होती हैं. इस बिजनेस की खासियत यह है कि इसे आप सब्सिडी के साथ शुरु कर सकते हैं. तो आइए जानते हैं कि इस बिजनेस को कैसे शुरू किया जा सकता है?

क्या है मधुमक्खी पालन का बिजनेस? (What is Beekeeping business?)

मधुमक्खी पालन के बिजनेस से बड़ी संख्या में लोग कमाई कर रहे हैं. यह कृषि व बागवानी उत्पादन बढ़ाने की क्षमता भी रखता है. दरअसल, मधुमक्खियां मोन समुदाय में रहने वाली कीटों वर्ग की जंगली जीव है.

इन्हें उनकी आदतों के अनुकूल कृत्रिम ग्रह (हईव) में पाला जाता है, साथ ही इनसे वृधि करने, शहद एवं मोम आदि प्राप्त किया जाता है. यह क्षेत्र पूरी तरह से प्रकृति पर निर्भर है, लेकिन जब से खेती में विज्ञान और टेक्नोलॉजी का प्रयोग हुआ हैस तब से कृषि क्षेत्र एक बहुत ही बड़ा और विशाल क्षेत्र बन गया है.

मधुमक्खी पालन का बिजनेस कैसे करें? (How to start Beekeeping business)

  • सबसे पहले पेशेवर मधुमक्खी पालक संघों से क्षेत्र-विशिष्ट जानकारी प्राप्त कर लें.

  • अपने क्षेत्र में उत्पादित शहद के प्रकारों के बारे में पूछताछ करें.

  • अपने मधुमक्खियों और पित्ती के स्वास्थ्य की जांच करें.

  • अपने छत्ता रखरखाव तकनीकों को परिष्कृत करने के लिए मधुमक्खी पालक संघ के साथ काम करें.

  • अपने खर्चों की तुलना अपने शहद और मोम की आय से करें.

  • अपने शहर या काउंटी क्लर्क के कार्यालय से व्यवसाय लाइसेंस ले सकते हैं.

  • अन्य परमिट के बारे में पूछताछ कर सकते हैं.

  • इसके अलावा, अपने उत्पादों की बिक्री के लिए बिक्री लाइसेंस के संबंध में राज्य के राजस्व विभाग से संपर्क करें.

  • राज्य मधुमक्खी पालन कानूनों के बारे में कृषि वकील से परामर्श लें.

मधुमक्खी का मार्केट (Bee Market)

आपको बता दें कि शहद के साथ कई अन्य उत्पाद हैं, जिनका आप उत्पादन कर सकते हैं जैसे कि बीज़वैक्स, रॉयल जेली, प्रोपोलिस या मधुमक्खी गोंद, मधुमक्खी पराग. ये सभी प्रोडक्ट्स बहुत फायदेमंद होते हैं, जो कि बाजार में बहुत ही महंगे मिलते है.

मधुमक्खी पालन पर 85% तक सब्सिडी देगी सरकार (Government will give subsidy on beekeeping)

कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा मधुमक्खी पालन का विकास’ (Development of Beekeeping for Improving Crop Productivity) नाम से एक केंद्रीय योजना लागू कर रखी है. इस योजना का मकसद प्रोडक्टिविटी बढ़ाना, प्रशिक्षण करना और जागरूकता फैलाना है. इसके साथ ही राष्ट्रीय मधुमक्खी बोर्ड (NBB) ने नाबार्ड (NABARD) के साथ मिलकर मधुमक्खी पालक व्यवसाय के वित्तपोषण की योजनाएं बनाई हैं. यह इस क्षेत्र में महिलाओं के रोजगार के लिए सहायता प्रदान करते हैं.

बता दें कि सरकार द्वारा मधुमक्खी पालन पर 80 से 85% तक सब्सिडी दी जाती है. इसके लिए अपने निकटतम राष्ट्रीय मधुमक्खी बोर्ड कार्यालय में जा सकते हैं. इसके अलावा वेबसाइट से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

मधुमक्खी पालन के बिजनेस से आमदनी (Income from Beekeeping Business)

आप इस बिजनेस को कम से कम निवेश में शुरू कर सकते हैं. इससे हर महीने अच्छी कमाई होगी. बता दें कि बाजार में शहद की मौजूदा कीमत लगभग 500 रुपए है. मान लीजिए कि आपको प्रति बॉक्स 1000 किलोग्राम की उपज मिलती है, तो आप इस तरह  5 लाख की कमाई हो जाएगी.

English Summary: start beekeeping business

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News