1. ग्रामीण उद्द्योग

Top 5 Agriculture Business Ideas: कम पूंजी में शुरू करें ये 5 कृषि बिजनेस, हर महीने होगा अच्छा मुनाफ़ा

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Top 5 Agriculture Business Ideas

Top 5 Agriculture Business Ideas

कृषि एक बहुत बड़ा और विशाल क्षेत्र बन गया है, इसलिए आज हम इस लेख में कृषि संबंधित 5 बिजनेस आइडिया (Agriculture Business Ideas) की जानकारी देने वाले हैं. कृषि व्यवसाय को कम से कम पूंजी में आसानी से शुरू किया जा सकता है.

सभी जानते हैं कि कृषि एक ऐसा क्षेत्र है, जहां अच्छा लाभ कमाने की आपार संभावनाएं होती हैं. मौजूदा वक़्त में कृषि क्षेत्र संबंधी कुछ ऐसे बिजनेस आईडिया हैं, जो तेजी से आगे बढ़ रहे हैं. अगर आप कम पूंजी वाले कृषि बिजनेस आइडिया (Agriculture Business Ideas) जानना चाहते हैं, तो यह लेख आपके बहुत काम आएगा, क्योंकि हम इस लेख में 5 ऐसे कृषि बिजनेस आईडिया (Agriculture Business Ideas) की जानकारी देने वाले हैं, जिन्हें कम निवेश में शुरू करके अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं.

टॉप 5 कृषि बिजनेस आइडिया (Top 5 Agriculture Business Ideas)

  1. मछली पालन (Fisheries)

  2. बकरी पालन (Goat Rearing)

  3. भैंस पालन (Buffalo Farming)

  4. गाय पालन (Cow Farming)

  5. मधुमक्खी पालन (Beekeeping)

मछली पालन का व्यवसाय (Fisheries Business)

अगर आप अच्छा पैसा कमाने चाहते हैं, तो मछली पालन करके अच्छा लाभ कमा सकते हैं. पहले के समय में मछली पालन मछुआरों तक ही सीमित था, लेकिन अब यह सफल और प्रतिष्ठित लघु उद्योग के रूप में स्थापित हो रहा है. इसके लिए नई-नई टेक्नोलॉजी आ रही हैं, जिससे रोजगार के नए अवसर पैदा हो रहे हैं. एक समय था, जब मछलियों को तालाब, नदी या फिर सागर के भरोसे रखा जाता था, लेकिन अब इसके लिए वैज्ञानिक परिवेश में कृत्रिम जलाशय बनाए जा रहे हैं. यहां वे सारी सुविधाएं उपलब्ध होती हैं, जो प्राकृतिक रूप से नदी, तालाब और सागर में होती हैं. इस तरह आप मछली पालन (Fisheries) की शुरुआत करके अच्छा पैसा कमा सकते हैं.

बकरी पालन का व्यवसाय (Goat Farming Business)

किसान कृषि के साथ–साथ बकरी पालन (Goat Rearing) भी कर सकते हैं. बकरी पालन में सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसके लिए बाजार स्थानीय स्तर पर उपलब्ध हो जाता है. ग्रामीण क्षेत्रों में बकरी को गरीब की गाय कहा जाता है. इसे हमेशा आजीविका के सुरक्षित स्रोत के रूप में पहचाना जाता है. यह एक छोटा जानवर है, इसलिए बकरी के रख-रखाव में लागत भी कम लगती है. अगर सूखा पड़ जाए, तो इस दौरान भी इसके खाने का इंतज़ाम आसानी से हो सकता है. इसके साथ ही देखभाल का काम भी आसानी से किया जा सकता है. बता दें कि पिछले कुछ वर्षों से बकरी पालन का बिजनेस काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है. कई प्रगतिशील किसान और शिक्षित युवा व्यावसायिक पैमाने पर बकरी पालन का बिजनेस कर रहे हैं. ऐसे में आप भी इसकी शुरुआत करके अच्छा मुनाफ़ा कमा सकते हैं.

भैंस पालन का व्यवसाय (Buffalo Farming Business)

आधुनिक समय में डेयरी फार्मिंग का व्यवसाय (Dairy farming business) तेजी से बढ़ रहा है, इसलिए भैंस पालन का चलन भी काफी बढ़ गया है.  देश में लगभग 55 प्रतिशत दूध भैंस पालन से मिलता है. अगर आप भी डेयरी बिजनेस से जुड़ना चाहते हैं, तो  भैंस पालन की शुरुआत कर सकते हैं.  आपको इससे बेहतर दूध उत्पादन मिलेगा, साथ ही अच्छा मुनाफा भी मिल पाएगा.   

गाय पालन का व्यवसाय (Cow Farming Business)

जैसा कि हम बताया है कि आधुनिक समय में डेयरी फार्मिंग बिजनेस (Dairy farming business) काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है. ऐसे में आप गाय पालन (Cow rearing) भी कर सकते हैं. मगर पशुपालक को गाय की उन्हीं नस्लों का पालन करना चाहिए, जिससे अधिक से अधिक दूध उत्पादन प्राप्त हो पाए. अगर गाय की उन्नत नस्ल की बात की जाए, तो इसमें देसी, विदेशी और संकर, तीनों नस्ल शामिल हैं. आप इन नस्लों की गाय का पालन बिजनेस की शुरुआत कर सकते हैं और एक बेहतर भविष्य बना सकते हैं.

मधुमक्खी पालन का व्यवसाय (Beekeeping Business)

यह एक ऐसा व्यवसाय (Business)  है, जो कि कभी खत्म नहीं होगा. हम सभी जानते हैं कि हमारी हेल्थ के लिए शहद (Honey) कितना फायदेमंद होता है, क्योंकि इसमें कई औषधीय गुण पाए जाते हैं. प्राचीन काल से ही इसका इस्तेमाल कई बीमारियों में किया जाता रहा है. सभी लोग अलग-अलग तरीके और जरूरत के हिसाब से शहद का इस्तेमाल करते हैं, इसलिए बाजार में शहद की अत्याधिक मांग है. ऐसे में अगर आप एक अच्छा बिजनेस आइडिया की तलाश कर रहे हैं, तो मधुमक्खी पालन से अच्छा कोई आइडिया नहीं है.

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News