1. ख़बरें

हाइटेक फ़ार्मिंग के सहारे इन 3 किसानों ने पेश की मिसाल, पढ़ें उनकी सफलता की कहानी!

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा
money

Agriculture Business

वर्तमान समय में हर कोई ज्यादा से ज्यादा पैसा कमाना चाहता है. जैसे-जैसे समय बदल रहा है, सब कुछ हाइटेक होता जा रहा है. इसका अंदाजा हम किसान से ही लगा सकते हैं. पहले का किसान खेतों की जुताई बैलों से करता था और अब बैलों की जगह ट्रैक्टर ने ले ली है.

इस तरह अब किसान भी अब खेती को हाई लेवल पर लाने के लिए अपनी खेती के साथ कई तरह के प्रयोग कर रहे हैं, ताकि वे कम समय और कम मेहनत में ज्यादा मुनाफा कमा सकें. क्योंकि आज का जमाना हार्डवर्क (Hard Work) का नहीं, बल्कि स्मार्ट वर्क (Smart Work) है.

मौजूदा वक्त में देश में कई ऐसे किसान हैं, जिन्होंने एक छोटे से खेत में निवेश करके खेती को एक बड़ा व्यवसाय बना दिया है. अगर आपको यकीन नहीं होता तो पढ़िए इन 3 छोटे किसानों की सफलता की कहानियां (Successful Farmer Stories), जो हजारों से लेकर लाखों और यहां तक कि करोड़ों की कमाई कर रहे हैं.....

तो हमने अपने इस लेख में ऐसे 3 छोटे कृषि व्यवसाय (Small Agriculture Business) की सूची तैयार की है, जो आपको अमीर बना सकते हैं. अपने इस लेख में हमने उन किसानों के उदाहरण भी शामिल किए हैं. जिन्होंने वास्तविक जीवन में इन कृषि व्यवसायों को करके वास्तव में बड़ी सफलता हासिल की है, तो आइये जानते हैं इनके बारे में विस्तार से...

मशरूम की खेती (Mushroom Farming)

मोटाराम शर्मा (Motaram Sharma), जिन्हें "राजस्थान के मशरूम किंग" के नाम से भी जाना जाता है, का मानना है कि किसान मशरूम की खेती (Mushroom Farming) से अपनी आय को  10 गुना तक कर सकते हैं. वह खुद इसका चलता फिरता उदाहरण हैं. उनके कुछ मशरूम 2 लाख प्रति किलोग्राम तक बिकते हैं. एक छोटे से कृषि व्यवसाय के रूप में मशरूम की खेती शुरू करना वास्तव में उतना मुश्किल नहीं है. इसके लिए न तो बड़े निवेश की जरूरत है और न ही बड़े भूखंड की.

आपको बस छोटे से क्षेत्र की आवश्यकता है.  मशरूम की खेती हेतु अधिक पानी की भी ज्यादा आवश्यकता नहीं पड़ती. जिस छत के नीचे मशरूम की खेती की जाती है, उसके छत पर मशरूम में सालभर पानी देने के लिए आसानी से पानी स्टोर किया जा सकता है.

बाद में, मशरूम की महंगी किस्मों को उगाकर किसान अपने व्यवसाय को विस्तार कर सकते हैं, जिसके लिए एयर कंडीशनिंग की आवश्यकता होती है, लेकिन शुरू करने के लिए, बटन मशरूम और दूधिया मशरूम जैसे मशरूम बिना एयर कंडीशनिंग के भी उगा सकते हैं.

मधुमक्खी पालन (Bee Keeping)

यदि आपको यात्रा करना पसंद हैं, तो मधुमक्खी पालन (Bee Keeping) एक अत्यंत लाभदायक व्यवसाय है. मधुमक्खी पालन में सफलता का सबसे अच्छा उदाहरण मधुमक्खी पालक संदीप जट्टान (Sandeep Jattain) का है, जिनके पास अब अपना खुद का ब्रांड भी है. इस पर जट्टन बताते हैं कि मधुमक्खी पालन का व्यवसाय छोटे पैमाने पर शुरू किया जा सकता है, जो भविष्य में बहुत बड़ा लाभ प्रदान करता है.

अन्य छोटे कृषि व्यवसाय से थोड़ा अलग, मधुमक्खी पालन में कुछ प्रशिक्षण,  थोड़ा निवेश और समर्पण शामिल है. सबसे खास बात यह है कि कोरोना वायरस के दौर में जब अन्य सभी धंधे चौपट हो गए थे, तब जट्टन का कारोबार नई ऊंचाइयों पर पहुंच गया था.

फल और सब्जी की खेती (Fruit and Vegetable Farming)

यदि कोई फल और सब्जी की खेती (Fruit and Vegetable Farming) में एक छोटा कृषि व्यवसाय शुरू करना चाहता है, तो उसे हिमाचल प्रदेश के किसान गुरदीप सिंह (Gurdeep Singh) से सीखना चाहिए, जो एक बगीचे में सैकड़ों फल और सब्जियां उगाते हैं. 

वह आम, अनार, मौसमी, ब्रोकली, फूलगोभी और बहुत कुछ उगाते हैं. उनका कहना है कि किसान एक छोटे से खेत से शुरुआत कर सकते हैं और फिर धीरे-धीरे अपने व्यवसाय का विस्तार करके बड़े भूखंड पर अधिक फल और सब्जियां उगा सकते हैं.

English Summary: small agricultural businesses: Beekeeping, Vegetable Farming, Mushroom Farming

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News