1. ख़बरें

PM Modi कर रहे Post Office की इस शानदार स्कीम में निवेश, आप भी उठाएं इसका फायदा

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
National Savings Certificate

National Savings Certificate

मोदी सरकार में पोस्ट ऑफिस का काफी प्रचार किया जा रहा है. पिछले कुछ वक़्त से पोस्ट ऑफिस की स्कीम की तरफ भी काफी ध्यान दिया जा रहा है. इसी कड़ी में पोस्ट ऑफिस की सेविंग स्कीम्स के प्रति लोगों का आकर्षण काफी बढ़ रहा है, क्योंकि खुद पीएम मोदी ने भी पोस्ट ऑफिस की योजनाओं में निवेश किया है. इसके तहत आपको अच्छा रिटर्न मिलता है, साथ ही यह बेहद सुरक्षित माना जाता है.

आज हम आपको एक ऐसी स्कीम के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके तहत अगर 1 लाख रुपए निवेश किया जाए, तो 5 साल के बाद राशि 1 लाख 40 हजार के करीब हो जाएगी. इस स्कीम में खुद प्रधानमंत्री मोदी ने निवेश किया है. यह National Savings Certificates एक वन टाइम इन्वेस्टमेंट है.

क्या है नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट

पोस्ट ऑफिस का नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट के लिए मैच्योरिटी पीरियड 5 सालों का है. इसमें अभी 6.8 प्रतिशत का इंट्रेस्ट रेट मिलता है, जो कि कम्पाउंड इंट्रेस्ट है. इसका कैलकुलेशन सालाना आधार पर किया जाता है. इसके साथ ही इंट्रेस्ट का भुगतान मैच्योरिटी पर होता है.

कितना करना होगा निवेश?

इस स्कीम के तहत कम से कम 1 हजार रुपए और 100 रुपए के गुणक में जमा कर सकते हैं. इसमें निवेश की मैक्सिमम लिमिट नहीं होती है और आपको सेक्शन 80सी के तहत डिडक्शन का लाभ दिया जाता है, तो वहीं सेक्शन 80सी की लिमिट 1.5 लाख रुपए रखी गई है.

6.8 प्रतिशत का इंट्रेस्ट रेट

अगर रिटर्न की बात करें, तो इस स्कीम के तहत इंट्रेस्ट रेट 6.8 प्रतिशत है. सालाना आधार पर निवेशकों को कम्पाउंट इंट्रेस्ट का लाभ मिलता है. अगर आप 1 हजार रुपए का निवेश करते हैं, तो 5 साल बाद आपकी राशि 1389.49 रुपए हो जाती है. इसका मतलब है कि इंट्रेस्ट इनकम 389.49 रुपए हो जाता है.

इस तरह 10 हजार रुपए का निवेश करने पर इंट्रेस्ट इनकम 3890 रुपए, तो वहीं 1 लाख निवेश करने पर 38949 रुपए इंट्रेस्ट के रूप में मिलते हैं.

English Summary: Get 40 thousand interest on 1 lakh by investing in the scheme of Post Office

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News