1. लाइफ स्टाइल

गौमूत्र के सेवन से होते हैं कई रोग दूर

स्वाति राव
स्वाति राव

Cow Urine

भारत में गाय को माँ का दर्जा दिया गया है. इसे कामधेनु के नाम से भी जाना जाता है. हमारे शास्त्रों में गायों की अनन्त महिमा लिखी गई है. यही कारण है कि गाय के दूध से लेकर उसके मूत्र व गोबर तक को पवित्र माना जाता है, लेकिन क्या आप जानते हैं? गाय के मूत्र में ऐसे औषधीय गुण पाए जते हैं जो  हमारी सेहत के लिए फायदेमंद होता है. आइये हम इस लेख में आपको बताते हैं गाय के मूत्र फायदे के बारे में.

गौ मूत्र के फायदे

गाय का मूत्र हमारे शारीर की कई रोग से मुक्त रखता है, आइये जानते हैं इसके फायदे

जोड़ो के दर्द में फायदेमंद (Beneficial In Joint Pain)

यदि आपको जोड़ों के दर्द रहता है, तो आप गौ मूत्र में एक ग्राम सौंठ मिलाकर इसका सेवन कर सकते हैं, ऐसा करने से जोड़ों के दर्द से राहत मिलती है.

इंफेक्शन में फायदेमंद (Beneficial in Infection)

शरीर को इंफेक्शन से बचाने के लिए भी गौ-मूत्र का उपयोग किया जा सकता है. गाय के पेशाब में बैक्टीरिया से लड़ने वाले गुण पाये जाते हैं. गले की खराश और अन्य तरह के गले के इंफेक्शन के इलाज में गौ-मूत्र का उपयोग किया जाता है.

दांतों की समस्याओं में फायदेमंद (Beneficial in Dental Problems)

दातों से जुडी समस्याओं में को ठीक करने के लिए गौमूत्र का उपयोग फायदेमंद होता है. अगर आपको दांत में पायरिया या दर्द है, तो आप गाय के मूत्र से कुल्ला करें. ये दांतों की समस्याओं से छुटकारा दिलाएगा.

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढाने में फायदेमंद (Beneficial in Boosting Immunity)

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए गाय के मूत्र उपयोग फायदेमंद होता है. गाय के मूत्र में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण पाया जाता है. जो शारीर के रोग को नष्ट कर रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ता है.

ये भी पढ़ें: ऑर्गेनिक तरीके से पौधों का विकास कैसे करें, ये तकनीक है बहुत लाभकारी

घाव भरने में फायदेमंद (Beneficial in Wound Healing)

अगर आपको शारीर में कहीं चोट लग जाये, तो गाय के मूत्र से चोट को धोने से गहरा घाव जल्द भर जाता है. दरअसल, गाय का मूत्र कोलेजन और टिशु बनाने में सहायक होता है.

पीलिया रोग में फायदेमंद (Beneficial in Jaundice Disease)

पीलिया के रोगियों के लिए गोमूत्र अमृत के सामान माना जाता है और इसे पीने से ये रोग जल्द ही हीक हो जाता है. पीलिया के रोगी को 15 दिनों तक गोमूत्र में फिटकरी डालकर सेवन करें.  

ऐसे ही सेहत से सम्बंधित जानकारी जानने के लिए कृषि जागरण हिंदी पोर्टल से जुड़े रहिये.

English Summary: many diseases are cured by the consumption of cow urine

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters