Lifestyle

क्या है मूंगफली खाने के फायदे और साइड इफेक्ट्स ?

मूंगफली जिसे अंग्रेजी में पीनट भी कहा जाता है. जोकि प्रोटीन का सबसे अच्छा स्रोत है. इसका सेवन करना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है. क्योंकि इसमें मौजूद विटामिन ई, मैग्नीशियम, फॉलेट, कॉपर और आर्जिनिन की मात्रा बहुत अधिक होती है. एक अध्ययन से पता चलता है कि मूंगफली वजन घटाने के लिए काफी उपयोगी मानी गयी है और इसके साथ ही ये हृदय रोग के खतरे को भी कम करती है. इसकी बाहरी खाल में प्राकृतिक एंटीऑक्सिडेंट की पर्याप्त मात्रा और आहार फाइबर की एक उच्च सामग्री पायी जाती है. तो ऐसे में आइये आज हम आपको मूंगफली खाने के ऐसे फायदे के बारे में बताते है जिसे जानकर आप हैरान रह जाएँगे.

100 ग्राम कच्ची मूंगफली में पाये जानी वाले पोषण का पूरा विवरण

कैलोरी – 567, प्रोटीन - 25.8 ग्राम, वसा - 49.2 ग्राम, कार्ब्स - 16.1 ग्राम, चीनी - 4.7 ग्राम, फाइबर - 8.5 ग्राम, पानी -  7 प्रतिशत

मूंगफली के फायदे

दिल की सेहत को स्वस्थ रखती है

शोधकर्ताओं के अनुसार, जो लोग नियमित रूप से मूंगफली खाते हैं, उनमें हार्ट स्ट्रोक या बीमारी से मरने की संभावना बहुत कम होती है. मूंगफली और अन्य नट्स खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL) के स्तर को भी कम करते हैं. मूंगफली के नियमित सेवन से आप इस समस्या से आसानी से छुटकारा पा सकते है.

याद्दाश्त तेज करने में फायदेमंद

मूंगफली में विटामिन बी 3 या नियासिन तत्व होते हैं जो मस्तिष्क की सामान्य कार्यप्रणाली के साथ-साथ स्मरण शक्ति को भी बढ़ाने में मदद करते है.

वजन घटाने में लाभदायक

मूंगफली को ऊर्जा-घने खाद्य पदार्थ कहा जाता है. यदि आप इसे स्नैक के रूप में शामिल करते हैं तो यह वजन घटाने में मदद करता है. जिससे आपका वजन काफी हद तक कंट्रोल हो जाता है.

पित्ताशय की पथरी को रोकता है

मूंगफली का सेवन पित्त पथरी के खतरे को कम करने में काफी सहायक है. एक शोध में अपने दिनचर्या में एक हफ्ते तक मूंगफली को शामिल करने वाले 5 या अधिक नट्स खाने वाले पुरुषों में पित्त पथरी की बीमारी का खतरा कम हो गया. इसी तरह एक हफ्ते में 5 या उससे अधिक यूनिट नट्स का सेवन करने वाली महिलाओं में कोलेसीस्टेक्टॉमी (पित्ताशय की थैली को हटाने) का ख़तरा कम हो जाता है.

डिप्रेशन से लड़ने में मदद करता है

मूंगफली में ट्रिप्टोफैन का अच्छा स्त्रोत पाया गया हैं, जो एक आवश्यक अमीनो एसिड है जो सेरोटोनिन के उत्पादन के लिए महत्वपूर्ण है, जो मूड के विनियमन में शामिल महत्वपूर्ण मस्तिष्क रसायनों में से एक है. जो हमारे डिप्रेशन को कम करने में मददगार साबित होता है.

मूंगफली कैसे खाएं ?

आप मूंगफली को कई तरीकों से खा सकते हैं. जैसे- कच्चा,  तल कर या फिर भुन कर. रोजाना इसे खाने का सबसे अच्छा तरीका सलाद के रूप में है. आप अपने नाश्ते में मूंगफली  डाल सकते हैं या फिर इसका सेवन आप दही में मिला कर भी कर सकते हैं. इसके साथ ही आप इसका सेवन कई तरह से कर सकते है जैसे पीनट बटर के तौर पर, चटनी बनाकर आदि के रूप में.

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि मूंगफली का अधिक मात्रा में सेवन नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि यह शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है. मूंगफली से कुछ लोगों को एलर्जी भी हो सकती है.



Share your comments