Lifestyle

गेंदा फूल दर्जनों बीमारियों का इलाज है, जानिए इसके फायदे के बारे में

meri

दाद, खाज और खुजली की समस्या को अधिकतर लोग गंभीरता नहीं लेते, लेकिन आपको जानकर ये हैरानी होगी कि दुनिया की बहुत बड़ी आबादी इस समस्या से ग्रसित है और ईलाज़ के लिये यहां-वहां भटक रही है. सामान्य सी लगने वाली ये समस्या वास्तव में गंभीर हो सकती है. स्किन से संबंधित समस्या पर लोग लाखों खर्च करने के बाद भी सही ईलाज़ नहीं करवा पाते हैं. जबकि कुदरती तौर पर हमारे आस-पास इतना कुछ है जो स्किन से जुड़ी समस्याओं को आसानी से ठिक कर सकती है. चलिये आज हम आपको बताते हैं कि गेंदे का फूल स्किन से जुड़ी अधिकतर समस्याओं का कैसे उपचार कर देता है.

गेंदा दिलायेगा खुजली से छुटकारा

गेंदे के फूल में आयुर्वेदिक तौर पर ऐसे तत्व होते हैं, जो दाद की समस्या से छुटकारा दिला सकते हैं. शायद यही कारण भी है कि बहुत सी बीमारियों की दवाइयों के निर्माण में इसका उपयोग किया जाता है. इस फूल में विशेष एंटी फंगल और एंटी एलर्जिक पदार्थ पाये जाते हैं, जो स्किन के लिये भी गुणकारी हैं.

meri

ऐसे करें इस्तेमालः

गेंदे के फूल की पत्तियां को तोड़कर इन्हें पीस लें. पर्याप्त मात्रा में पानी मिलाकर एक गाढ़ा पेस्ट बनाते हुए इसे तैयार कर ले. पेस्ट को दाद, खाज या खुजली वाले स्थान पर आराम से लगाये. अगर आप चाहें तो पेस्ट के साथ थोड़ा सा गुलाब जल भी मिला सकते हैं.

बुखार और पथरी में भी है लाभदायकः

इस फूल में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल गुण पाये जाते हैं. जिस कारण कुदरती रूप से इसके चाय पीने या इसके सेवन से बुखार में राहत मिलती है. इसके अलावा थोड़े मात्रा में गेंदा फूल की पत्तियों को पानी में उबालकर पीने से पथरी की समस्या दूर होती है. वहीं पथरी के दर्द से भी राहत मिलता है.



Share your comments