Lifestyle

बुखार का रामबाण इलाज है गिलोय

giloy

गिलोय को बुखार और घातक बीमारियों में काफी बड़ा रामबाण इलाज माना जाता है.इसमें प्रचुर मात्रा में औषधीय गुण होते है जो कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते है और आपको काफी स्वस्थ रखते है. कभी भी न सबखने वाली लता होने के कारण इसे अमृता भी कहा जाता है. गिलोय का तना औप जड़े औषधीय गुणों से भरपूर होती है, गिलोय का सेवन रस, पाउडर और कैप्सूल के रूप में किया जाता है. गिलोय के एक फुट लंबे तने को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें, फिर उसे रातभर चार कप पानी में भिगो ले और सुबह इसको उबाल लें. तो आइए जानते है कि गिलोय के क्या-क्या फायदे होते है-

गिलोय के फायदे

प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाए

गिलोय शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है, यह एंटी ऑक्साइड का एक बड़ा पावर हाउस होता है जो कि झुर्रियों से लड़ने और कोशिकाओ को स्वस्थ और निरोग रखने में मदद करता है. गिलोय टॉक्सिन को शरीर से बाहर निकालने, खून को पूरी तरह से साफ करने और बीमारियों से लड़ने वाले बैक्टीरिया की रक्षा के साथ ही मूत्रमार्ग के संक्रमण से बचाव करती है.

Use of Giloye

आपको रखे जवां

गिलोय एक आयुर्वेदिक हर्ब है जिसका उपयोग एंटी एजिंग के रूप में किया जाता है. इसके रोजाना सेवन से चेहरे पर झुर्रिया नहीं पड़ती है, दरअसल गिलोय खून को लागातार साफ करती रहती है जिस कारण शरीर की कांति बनी रहती है.

बुखार की कारगार दवा

गिलोय लंबे समय से रहने वाले बुखार में बेहद ही असरदार होती है. यह डेंगु, स्वाइन फ्लू और मलेरिया जैसी घातक बीमारियों में औषधि का काम करती है और यह शरीर में ब्लड प्लेटलेट्स की संख्या और लाल रक्त की कोशिकाओं को बढ़ाती है. इसके सेवन से मलेरिया, वायरल बुखार, कालाबजार आदि से बचाव होता है.

पाचन में करें सुधार

गिलोय पाचन में सुधार और आंत संबंधी समस्याओं के इलाज में गिलोय काफी फायदेमंद होती है. रोजाना आधा ग्राम गिलोय के साथ आंवला पाउडर लेने से काफी लाभ होता है. कब्ज के इलाज के लिए इसे गुड़ के साथ लेना चाहिए.

giloy

डायबिटीज का इलाज

गिलोय एक हाइपोग्लाइसेमिक एजेंट के रूप में कार्य करती है और विशेष रूप से टाइप 2 डायबिटीज के इलाज में कारगार होती है. गिलोय का रस रक्त शर्करा के ज्यादा रक्त चाप को कम करने में सहायक है.

ऐसे करें इस्तेमाल

गिलोय के तने को छोटे-छोटे टुकड़े करके थोड़ा सा कूट लें. कटे हुए टुकड़ों को चार कप पानी के साथ अच्छी तरह से उबाल लें. जब पानी एक कप अच्छे से उबल जाएं तो आप उसको उबाल कर पी लें. साथ ही इसके रस को खाली पेट पीने से काफी लाभ होता है. गिलोय के तने को चबाने से भी फायदा होता है.इसके सेवन से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोतरी होती है.



Share your comments