Government Scheme

Kisan Credit Card: किसानों के लिए KCC की लिमिट बढ़वाना हुआ आसान, SBI ने शुरू की ये नई सुविधा

Kisan Credit Crad

Kisan Credit Card

देश के किसानों के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (State Bank of India) ने एक बड़ी राहत दी है. अब जिन किसानों के पास किसान क्रेडिट कार्ड (Kisan Credit Card) है, वह अपने कार्ड की लिमिट घर बैठे घटा या बढ़ा सकते हैं. बता दें कि देश के सबसे बड़ा कर्जदाता एसबीआई (SBI) है, जिसने योनो कृषि पर किसान क्रेडिट कार्ड समीक्षा या KCC समीक्षा विकल्प नामक एक नई सुविधा शुरू की है. अब किसानों को केसीसी (KCC) की लिमिट घटाने या बढ़ाने के आवेदन के लिए बैंक शाखा के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे. एसबीआई ने कहा है कि किसान योनो कृषि पर केसीसी की समीक्षा का विकल्प चुकर बिना किसी कागजी कार्रवाई के अपने घर बैठे केवल 4 क्लिक में आवेदन कर सकते हैं.

केसीसी की विशेषताएं

  • केसीसी खाते में क्रेडिट बैलेन्स पर बचत बैंक की दर पर ब्याज मिलता है.

  • सभी केसीसी उधारकर्ताओं को मुफ्त एटीएम सह डेबिट कार्ड दिया जाता है.

  • 3 रुपए लाख तक के लोन पर 2 प्रतिशत हर साल की दर से ब्याज छूट दी जाती है.

  • अगर आप जल्दी लोन चुका देते हैं, तो 3 प्रतिशत हर साल की दर से अतिरिक्त ब्याज छूट मिलती है.

  • समस्त केसीसी ऋणों के लिए अधिसूचित फसल/अधिसूचित क्षेत्र, फसल बीमा के अंतर्गत कवर किए जाते हैं.

  • पहले साल के लिए लोन की मात्रा कृषि लागत, फसल के बाद खर्च और कृषि भूमि अनुरक्षण लागत के आधार पर तय की जाती है.

  • इसके बाद 5 साल के दौरान वित्त की मात्रा में वृद्धि के आधार पर लोन स्वीकृत किया जाता है.

  • 60 लाख रुपए तक की केसीसी सीमा के लिए Collateral security की आवश्यकता नहीं होती है.

  • 1 साल या लोन चुकाने की तारीख तक 7 प्रतिशत हर साल की दर से साधारण ब्याज लगाया जाएगा.

  • तय तारीख के अंदर चुकौती न होने के मामले में कार्ड दर पर ब्याज देना पड़ेगा.

  • इसके बाद अर्ध वार्षिक रूप से चक्रवृद्धि ब्याज लगेगा.

State Bank Of India

केसीसी के लिए जरूरी दस्तावेज

  • आईडी प्रूफ के लिए वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड, पासपोर्ट, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि.

  • एड्रेस प्रूफ के लिए वोटर आईडी कार्ड, पासपोर्ट, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस आदि.

केसीसी मिलने की प्रक्रिया

कोई भी बैंक किसान क्रेडिट कार्ड जारी करने के लिए आनाकानी नहीं कर सकता है, क्योंकि सरकार के पास किसानों के आधार नंबर, खाता नंबर और उनकी जमीन का पूरा रिकॉर्ड है. ऐसे में आवेदन करने पर बैंक को केसीसी देना ही पड़ेगा. रिजर्व बैंक ने घोषणा की है कि केसीसी धारक अपने घरेलू खर्चों का भुगतान करने के लिए अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग कर सकते हैं. इस पर लोन की दर 4 प्रतिशत है. किसान इस ब्याज दर पर सिक्योरिटी के बिना 1.60 लाख रुपए तक का लोन ले सकते हैं. समय पर भुगतान करने पर लोन राशि को 3 लाख रुपए तक बढ़ाया भी जा सकता है.

केसीसी बनवाने की प्रक्रिया

  • आपको सबसे पहले https://pmkisan.gov.in/ पर जाना होगा.

  • इस बेवसाइट में फॉर्मर टैब (Farmer Tab) के दाईं ओर डाउनलोड केसीसी फार्म ( download KCC Form) का विकल्प दिया गया है.

  • यहां से फॉर्म को डाउनलोड करके प्रिंट करना होगा.

  • इसके बाद फॉर्म भरकर बैंक में जमा करना होगा.

  • जब आपका किसान क्रेडिट कार्ड बनकर तैयार हो जाएगा, तो बैंक आपको सूचित करेगा और कार्ड आपके पते पर भेज देगा.

  • अगर आपने पहले से कोई कृषि लोन ले रखा है, तो आपको इसकी जानकारी ज़रूर देनी होगी.

  • इसके साथ ही कितनी जमीन खतौनी में आपके नाम है, गांव का नाम, सर्वे/खसरा संख्या. कितने एकड़ जमीन है, कौन से सीजन की फसल बोने जा रहें समेत अन्य जानकारी फॉर्म में भरनी होगी.

  • इसके अलावा बतान होगा कि आपने किसी अन्य बैंक या शाखा से कोई और किसान क्रेडिट कार्ड नहीं बनवाया है.



English Summary: SBI has introduced new facility to increase the limit of Kisan Credit Card

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in