1. सरकारी योजनाएं

Investment scheme: मात्र 1 हजार रुपए निवेश करके हर 6 महीने पर कमाएं मुनाफ़ा, जानें क्या है सरकार की नई योजना

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Investment

केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) ने बीते 1 जुलाई को एक खास योजना लागू की है, जिसका नाम टैक्सेबल फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड (Taxable floating rate savings bond scheme) है. इस योजना के तहत निवेश करने वाले निवेशकों को हर 6 महीने पर मुनाफ़ा मिल पाएगा. दरअसल, यह एक बॉन्ड योजना है, जिसमें आपको एक बॉन्ड खरीदना होगा, जिसके तहत निवेशक को निवेश करना होगा. इसकी बॉन्ड मय सीमा बॉन्ड 7 साल तक की होगी. इन पर साल में 2 बार 1 जनवरी और 1 जुलाई को ब्याज दिया जाएगा. यानी अगर आपने इस बॉन्ड में निवेश कर दें, तो आपको इसका ब्याज 1 जनवरी 2021 को मिल जाएगा. यह ब्याज 7.15 प्रतिशत की दर से दिया जाएगा. इस योजना में 6-6 महीने के बाद ब्याज नई दर से लागू किया जागा. समय पूरा होते ही निवेशक को ब्याज का पैसा खाते में भेज दिया जाएगा.

paisa

कितना कर सकते हैं निवेश

मोदी सरकार की इस टैक्सेबल फ्लोटिंग रेट सेविंग्स बॉन्ड स्कीम के तहत कम से कम 1 हजार रुपए का निवेश करना पड़ेगा. खास बात है कि इस निवेश की कोई भी अधिकतम लिमिट नहीं है.

ऐसे कर सकते हैं निवेश

इस योजना का लाभ किसी भी सरकारी बैंक, IDBI बैंक, एक्सिस बैंक, HDFC बैंक और ICICI बैंक द्वारा लिया जा सकता है. यानी निवेशक इन बैंकों से बॉन्ड खरीदा सकते हैं. बता दें कि यह बॉन्ड  अधिकतम 20 हजार रुपए का आएगा, जिसको कैश में खरीदा जा सकता है. इसका अलावा चेक और इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट से भी बॉन्ड खरीद सकते हैं. इस बॉन्ड को केवल इलेक्ट्रॉनिक रूप में खरीदा जा सकता है. यह टैक्स सेविंग बॉन्ड नहीं है, इसलिए निवेशक को इस पर मिलने वाले ब्याज से होने वाली कमाई का इनकम टैक्स भरना पड़ेगा.

English Summary: Make a profit every 6 months by investing 1 thousand rupees in the taxable floating rate savings bond scheme of Modi government

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News