Government Scheme

पीएम किसान योजना के अपात्र किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी, इस तरह मिलेगा बदले नियमों का लाभ

Central government

केंद्र सरकार (Central Government) की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (Pradhan Mantri Samman Nidhi Yojna) को बहुत महत्वाकांक्षी माना जाता है. इस योजना की मदद से तमाम किसानों को आर्थिक राहत पहुंचाई जाती है. यह सरकार की एक ऐसी योजना है, जो कि कोरोना संकट में किसानों का सहारा बनी रही है. इसी बीच केंद्र सरकार ने योजना के अपात्र किसानों को एक बड़ी राहत दी है.

दरअसल, पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Scheme) के पात्रता के नियमों को आसान कर दिया गया है, ताकि इसका लाभ अधिक से अधिक किसानों को मिल पाए. उम्मीद जताई जा रही है कि नए और सरल नियमों से बड़ी संख्या में वह किसान योजना का लाभ उठा पाएंगे, जो कि अभी तक  इस योजना के लिए पात्र नहीं थे. बता दें कि इसके लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया जारी है. इस योजना के तहत लगभग 9 करोड़ 96 लाख से अधिक किसानों को लगभग 73 हजार करोड़ रुपए की राशि प्रदान की जा चुकी है. इस योजना ने 18 महीने की अवधि समाप्त कर ली है. इसके तहत किसानों के खाते में सालाना 6 हजार रुपए की राहत राशि भेजी जाती है. जब से योजना की शुरुआत हुई है, तब से सरकार द्वारा योजना में कई बदलाव किए गए हैं. आइए आपको बताते हैं कि अब सरकार द्वारा इस योजना के नियमों में क्या बदलाव किया गया है.

Government scheme

जोत की सीमा समाप्त

पहले योजना की पात्रता शर्तों में कहा गया था कि जिन किसानों के पास 2 हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि होती, इस योजना का लाभ उन्ही किसानों को मिल पाएगा. मगर अब केंद्र सरकार ने जोत की सीमा खत्म कर दी है. इस तरह योजना का लाभ लगभग 12 करोड़ से बढ़कर 14.5 करोड़ किसान उठा पाएंगे.

आधार कार्ड की अनिवार्यता

इस योजना के तहत राशि लेने के लिए आधार कार्ड की मांग की जा रही थी, लेकिन इसके बाद आधार कार्ड को पूर्ण रूप से अनिवार्य कर दिया गया है. बता दें कि किसानों को इस योजना में आधार लिंक करवाने की छूट 30 नवंबर 2019 तक दी गई थी. इस तारीख को इसलिए आगे नहीं बढ़ाया गया, ताकि सिर्फ पात्र किसानों को इसका लाभ मिल पाए.

खुद रजिस्ट्रेशन करने की सुविधा

इस योजना के तहत लाभार्थियों की संख्या बढ़ पाए, इसलिए सरकार ने सेल्फ रजिस्ट्रेशन का तरीका निकाला है. बता दें कि इससे पहले योजना के लिए रजिस्ट्रेशन लेखपाल, कानूनगो और कृषि अधिकारी के जरिए किया जाता था. मगर अब किसान योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर खुद अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं. इसके लिए राजस्व रिकॉर्ड, बैंक अकाउंट, आधार और मोबाइल नंबर होना चाहिए.

ये खबर भी पढ़ें: राशन कार्ड से मुफ्त गेहूं, चावल और चना के साथ मिलेंगे कई अन्य फायदे, जानिए क्या?

kheti

रजिस्ट्रेशन का स्टेटस जानने की सुविधा

खास बात है कि किसान रजिस्ट्रेशन करने के बाद अपना स्टेटस चेक कर सकते हैं. इससे उन्हें जानकारी मिल जाती है कि उनके खाते में योजना की राशि आई है या नहीं. किसानों को इस योजना संबंधी जानकारी के लिए दफ्तरों के चक्कर लगाने की ज़रूरत नहीं है. किसान पीएम किसान पोर्टल पर जाकर अपना आधार, मोबाइल और बैंक खाता डालकर स्टेटस चेक कर सकते हैं.

पीएम किसान मानधन योजना

अगर किसी किसान को पीएम किसान सम्मान निधि योजना का लाभ मिल रहा है, तो उसको पीएम किसान मानधन योजना का लाभ उठाने के लिए किसी भी तरह दस्तावेज दिखाने की जरुरत नहीं होती है, क्योंकि भारत सरकार के पास पहले से ही लाभार्थी किसानों के सभी दस्तावेज मौजूद होते हैं.

ये खबर भी पढ़ें: सरसों के तेल की मिल लगाकर कमाएं मुनाफ़ा, कम निवेश में ऐसे शुरू करें बिजनेस



English Summary: PM Kisan Yojana rules become easy, it will benefit ineligible farmers

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in