1. सरकारी योजनाएं

Kisan Vikas Patra में निवेश करने से सरकारी गारंटी के साथ डबल होगा पैसा

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Post Office Scheme

Post Office Scheme

अगर आप ऐसी जगह अपना पैसा निवेश करना चाहते हैं, जहां आपका पैसा एकदम सुरक्षित रहे, साथ ही मुनाफा भी अच्छा मिले. ऐसे में आपके लिए पोस्ट ऑफिस की जीरो रिस्क वाली यानि पोस्ट ऑफिस सेविंग स्कीम्स (Post Office Savings Scheme)  में निवेश ही बेहतर विकल्प है.

अगर आप लॉन्ग टर्म इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं, तो आप पोस्ट ऑफिस की किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra/KVP) स्कीम में अपना पैसा निवेश कर सकते हैं. आइए आपको किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra) स्कीम के बारे में अधिक जानकारी देते हैं.

किसान विकास पत्र स्कीम (Kisan Vikas Patra)

किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra Scheme)  भारत सरकार की एक वन टाइम इन्वेस्टमेंट स्कीम है. इसके तहत एक तय अवधि में पैसा दोगुना किया जाता है. इस स्कीम का लाभ सभी पोस्ट ऑफिस और बड़े बैंकों द्वारा लिया जा सकता है.

किसान विकास पत्र स्कीम में मेच्योरिटी पीरियड (Maturity period in Kisan Vikas Patra Scheme)

मौजूदा समय में किसान विकास पत्र का मेच्योरिटी पीरियड 124 माह तक का है. इसमें कम से कम 1000 रुपए का निवेश करना होता है. इसमें अधिकतम निवेश की कोई लिमिट नहीं होती है.

बता दें कि किसान विकास पत्र (KVP)  में निवेश सर्टिफिकेट के रूप में किया जाता है. ये  सर्टिफिकेट 1000 रुपए, 5000 रुपए, 10,000 रुपए और 50,000 रुपए तक के होते हैं. इन सर्टिफिकेट को खरीदा जा सकता है. गौरतलब है कि पोस्ट ऑफिस स्कीम्स पर सरकारी गारंटी मिलती है, ऐसे में इसमें रिस्क बिल्कुल नहीं है.

जरूरी दस्तावेज (Required Documents)

किसान विकास पत्र स्कीम में 50,000 रुपए से ज्यादा के निवेश के लिए पैन कार्ड का होना अनिवार्य है. इसके साथ ही पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड भी देना होता है.

अगर आप 10 लाख या इससे ज्यादा निवेश करना चाहते हैं, तो आपको इनकम प्रूफ भी जमा करना होगा, जैसे आईटीआर, सैलरी स्लिप और बैंक स्टेटमेंट.

कैसे खरीदते हैं सर्टिफिकेट (How to Buy Certificate)

किसान विकास पत्र स्कीम के तहत 3 प्रकार के सर्टिफिकेट खरीदे जा सकते हैं.

सिंगल होल्डर टाइप सर्टिफिकेट (Single Holder Type Certificate)

ये सर्टिफिकेट आप खुद के लिए या फिर किसी नाबालिग के लिए खरीद सकते हैं.

ज्वाइंट A अकाउंट सर्टिफिकेट (Joint A Account Certificate)

ये सर्टिफिकेट  2 वयस्कों को ज्वाइंट रूप से जारी किया जाता है. इसके तहत दोनों होल्डर्स को भुगतान किया जाता है. इसके अलावा, जो जीवित हो, तो उसके लिए भुगतान किया जाता है.

ज्वाइंट B अकाउंट सर्टिफिकेट (Joint B Account Certificate)

ये सर्टिफिकेट 2 वयस्कों को ज्वाइंट रूप से जारी किया जाता है. इसके तहत दोनों में से किसी एक को भुगतान किया जाता है या फिर जो जीवित हो.

किसान विकास पत्र की विशेषताएं (Features of Kisan Vikas Patra)

  • इस स्कीम के तहत गारंटी के साथ रिटर्न मिलता है.

  • बाजार के उतार चढ़ाव का कोई असर नहीं होता है.

  • अवधि खत्म होने के बाद पूरी राशि मिल जाती है.

  • इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट नहीं दी जाती है.

  • इस स्कीम पर मिलने वाला रिटर्न पूरी तरह से टैक्सेबल है.

  • मैच्योरिटी के बाद निकासी पर कोई टैक्स नहीं लगता है.

  • आप मैच्योरिटी पर राशि निकाल सकते हैं, लेकिन इसका लॉक-इन पीरियड 30 माह तक का होता है.

  • आप किसान विकास पत्र को कोलैटरल के तौर या सिक्योरिटी के तौर पर रखकर लोन ले सकते हैं.

English Summary: investing in kisan vikas patra will double the money

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News