1. खेती-बाड़ी

गेहूं की डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) किस्म देगी दोगुना उत्पादन, जानिए क्यों?

स्वाति राव
स्वाति राव

Wheat Improved Variety

रबी सीजन में ज्यादातर किसान गेहूं की खेती करते हैं. ऐसे में गेहूं की खेती करने वाले किसानों को पहले से सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि उन्हें गेहूं की कौन-सी किस्में (Wheat Variety) की बुवाई करना है, जो कम समय में बेहतर और अधिक उपज दे सकती है

गेहूं की अच्छी उपज प्राप्त करने के लिए उन्नत किस्म का चयन करना अति आवश्यक है. आज हम इस लेख में आपको गेहूं की एक ऐसी उन्नत किस्म (Improved Variety Of Wheat) के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपको कम समय में अधिक उपज देगी.

गेहूं की डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) किस्म

हम गेहूं की जिस किस्म की बात करने जा रहे हैं, उसका नाम डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) (DBW 327 (Karan Shivani) है. गेहूं की यह किस्म आईसीएआर-आईआईडब्ल्यूबीआर (ICAR-IIWBR) करनाल के वैज्ञानिकों द्वारा विकसित की गई है. गेहूं की यह किस्म वैज्ञानिकों के अनुसार बहुत अच्छी मानी जा रही है. यह किस्म पैदावर के लिए भी अच्छी है, साथ ही सेहत के लिए भी काफी लाभदायक मानी जा रही है. आइए गेहूं की इस किस्म की खासियत के बारे में जानते हैं

डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) किस्म की बुवाई का समय (Sowing Time Of Variety DBW 327 (Karan Shivani))

फसल की अच्छी उपज के लिए जरुरी है उसकी बुवाई, गुड़ाई और निराई का कार्य अच्छी तरह किया जाए. अगर किसान भाई इस किस्म की खेती करना चाहते हैं, तो 25 अक्टूबर से 5 नवम्बर के बीच का समय उचित माना जाता है.

डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) किस्म की पैदावार (Yield Of Variety DBW 327 (Karan Shivani))

गेहूं की यह किस्म किसानों के लिए अधिक फलदायी है. इस किस्म की सबसे बड़ी खासियत है कि यह किस्म 79.4 क्विंटल/हेक्टेयर उतपादन देती है.

डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) किस्म की सिंचाई का समय (Irrigation Timing Of DBW 327 (Karan Shivani) Variety)

गेहूं की इस किस्म सिंचाई की बात करें, तो पहली सिंचाई 20 से 25 दिन में करना है, तो वहीं दूसरी सिंचाई की प्रक्रिया 20 दिन के अंतराल में करनी चाहिए

डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) किस्म के लिए क्षेत्र  (Area For Variety DBW 327 (Karan Shivani))

कृषि वैज्ञानिकों के अनुसार गेहूं की यह किस्म की खेती  पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान जैसे क्षेत्रों के लिए उचित मानी जा रही है. इसके अलवा यह पश्चिमी यूपी, जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश जैसे क्षेत्रों के लिए भी उचित मानी जा रही है.

डीबीडब्ल्यू 327 (करण शिवानी) किस्म की विशेषताएं (DBW 327 (Karan Shivani) Variety Features)

गेहूं की इस किस्म के पौध के ऊँचाई 98cm होती है. इसके साथ ही गेहूं का आकार पतला और नुकीला होता है. इस किस्म में जिंक (40.6pm) और आयरन (39.4ppm) और प्रोटीन 11.9% पाया जाता है. गेहूं की यह किस्म प्राकृतिक रूप से शुष्क परिस्थितियों के अनुकूल मानी जा रही है

गेहूं की इस किस्म के लिए संपर्क करें (Contact For This Variety Of Wheat)

यदि कोई किसान भाई गेहूं की इस किस्म की खरीद करना चाहते है, तो उनको आईसीएआर-आईआईडब्ल्यूबीआर, करनाल, डॉ अमित शर्मा (9678622622), डॉ सीएन मिश्रा (9468251294), डॉ उमेश कांबले (8545811456)  के मोबाइल नंबर पर संपर्क कर सकते हैं.

English Summary: this wheat variety dbw 327 (karan shivani) which will give double production

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News