1. बाजार

मानसून के सक्रिय होते ही मक्के से गुलजार हुआ बाजार, मन को भा रहा है भुट्टा

bhuttta

देश के कई राज्यों में मानसून  पूरी तरह से सक्रिय हो गया है. पिछले चार दिनों से देश के कई हिस्सों में जमकर वर्षा हो रही है. वहीं मौसम की मांग को देखते हुए बाजार में मक्का भी आ चुका है. इस समय महनगरों में सिका हुआ भुट्टा लोगों को खूब पसंद आ रहा है.

20 रूपए पीस बिक रहा है भुट्टा

शहरों में 15 से 20 रूपये पीस सिका हुआ भुट्टा बिक रहा है, जबकि गांवों में 10 से 15 रूपए में भी भुट्टे का आनंद लिया जा सकता है.

इन क्षेत्रों के लिए भुट्टा है लोकप्रिय

भारत में सबसे अधिक लोकप्रिय कर्नाटक, राजस्थान एवं मध्यप्रदेश से आने वाले मक्का है. इन जगहों से आने वाले मक्के का उपयोग सिके हुए भुट्टे के रूप में किया जाता है. विशेषज्ञों के मुताबिक अच्छी मांग के कारण आने वाले समय में मक्के के दाम बढ़ सकते हैं.

ये खबर भी पढें:PM Kisan Scheme का करोड़ों रुपए चढ़ रहा भष्टाचार की भेंट, 1 लाख अपात्र लोग उठा रहे इस महत्वाकांक्षी योजना का लाभ

bhutta

पॉल्ट्री क्षेत्र में निराशा

मक्के की मांग बढ़ने की वजह से छोटे व्यापारी जहां खुश हैं, वहीं पॉल्ट्री उद्योग की चिंताएं बढ़ गई है. लॉकडाउन में पहले से ही घाटा सह रही पॉल्ट्री उद्योग मक्के के दाम को लेकर परेशान है.

सरकार से विशेष अनुग्रह

मक्के की बढ़ती कीमतों को देखते हुए पॉल्ट्री और स्टार्च मिल मालिक सरकार से अनुग्रह कर रहे हैं, कि फिलहाल इसके दाम न बढ़ाएं जाएं. लॉकडाउन के कारण पहले ही पॉल्ट्री क्षेत्र की कमर टूट चुकी है, ऐसे में अगर मक्के के दाम बढ़ाए गए, तो हालात काबू से बाहर हो जाएंगें.

(आपको हमारी खबर कैसी लगी? इस बारे में अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर दें. इसी तरह अगर आप पशुपालन, किसानी, सरकारी योजनाओं आदि के बारे में जानकारी चाहते हैं, तो वो भी बताएं. आपके हर संभव सवाल का जवाब कृषि जागरण देने की कोशिश करेगा)

English Summary: huge demand of corn after during monsoon people love to eat bhutta know more about market condition

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News