Weather

आज का मौसम: देशभर में ठंड ने की दस्तक, किसानों के पराली जलाने से दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण का स्तर बढ़ा

Weather

देशभर के कई हिस्सों में ठंड (Winter) का आगमन हो चुका है, तो वहीं दिल्ली-एनसीआर (Delhi NCR) समेत उत्तर भारत के ज्यादातर हिस्सों में तापमान गिरने से ठंड काफी पड़ने लगी है. इससे लोगों ने गर्म कपड़े भी पहनना शुरू कर दिया है. इसके अलावा हरियाणा और पंजाब में किसानों द्वारा जलाई जाने वाली जलाने की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं, इसलिए दिल्ली-एनसीआर की हवा की गुणवत्ता (Delhi Air Pollution) में कोई सुधार दिखाई नहीं दे रहा है. इस कारण दिल्ली-एनसीआर, उत्तर-भारत के मैदानी क्षेत्र और मध्य प्रदेश के उत्तरी हिस्सों में हवा की गुणवत्ता का स्तर काफी खराब हो सकता है. आइए अब देश के बाकी हिस्सों के मौसम का हाल भी जानते हैं...

देशभर में बने मौसमी सिस्टम

आपको बता दें कि दक्षिणी अंडमान सागर के आस-पास के हिस्सों पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है. इसके साथ ही बंगाल की खाड़ी के मध्य भागों से उत्तरी बांग्लादेश तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है. इसके अलावा दक्षिण-पूर्वी राजस्थान से सटे हिस्सों पर भी एक विपरीत चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है.

पिछले 24 घंटों के दौरान मौसमी हलचल

अगर पिछले 24 घंटों के मौसमी हाल की बता करें, तो इस दौरान दक्षिणी तमिलनाडु समेत दक्षिणी तटवर्ती आंध्र प्रदेश में हल्की बारिश होने का अनुमान लगाया जा रहा है. इसके अलावा दक्षिणी केरल, लक्षद्वीप, आंतरिक तमिलनाडु,  अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश हो सकती है. पंजाब और हरियाणा के कुछ हिस्सों में हल्का कोहरा छाया हुआ है, तो वहीं देश की राजधानी दिल्ली-एनसीआर में भी वायु प्रदूषण की स्तर सुधरने का नाम नहीं ले रहा है.

अगले 24 घंटों के मौसम का पूर्वानुमान

अगले 24 घंटों के मौसम की बात करें, तो इस दौरान तटीय तमिलनाडु और अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह, आंतरिक तमिलनाडु और केरल के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई जा रही है. इसके अलावा दक्षिणी कर्नाटक और दक्षिणी आंध्र प्रदेश के भी कुछ हिस्सों में हल्की बारिश दर्ज की गई है. बाकी देश में मौसम शुष्क रहने की संभावना है.



English Summary: Pollution levels have started to rise in Delhi-NCR due to burning of straw by farmers

कृषि पत्रकारिता के लिए अपना समर्थन दिखाएं..!!

प्रिय पाठक, हमसे जुड़ने के लिए आपका धन्यवाद। कृषि पत्रकारिता को आगे बढ़ाने के लिए आप जैसे पाठक हमारे लिए एक प्रेरणा हैं। हमें कृषि पत्रकारिता को और सशक्त बनाने और ग्रामीण भारत के हर कोने में किसानों और लोगों तक पहुंचने के लिए आपके समर्थन या सहयोग की आवश्यकता है। हमारे भविष्य के लिए आपका हर सहयोग मूल्यवान है।

आप हमें सहयोग जरूर करें (Contribute Now)

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in