1. ग्रामीण उद्योग

घर बैठे शुरू करें पानी पूरी बनाने का बिजनेस, कमाएं बंपर मुनाफा

पानी पूरी भारत की पहचान है. अगर आप घर से बाज़ार जाएं तो पाएंगें कि हर 2 किमी के आस-पास एक ना एक खोमचे वाला पानी पूरी बेच रहा है. स्वादिष्ट एवं लाज़ावाब टेस्ट के कारण आधुनिक या मोर्डन समय में भी इसकी मांग कम नहीं हुई है. शायद यही कारण है कि बड़े से बड़े मॉल में भी पानी पूरी आपको आसानी से देखने को मिल जाएगा. वैसे यह सभी बातें हम आपको इसलिए बता रहें हैं ताकि आप खुद का कोई काम कम पैसों में भी शुरू कर सकें.

जी हां, आप घर बैठे भी बड़े आराम से सामान्य सी पूंजी में पानी पूरी बनाने का काम शुरू कर सकते हैं. खास बात यह है कि इस काम को करने के लिए ना तो बहुत अधिक जगह की जरूरत है और ना ही अधिक आदमियों की. आप अकेले भी यह काम कर सकते हैं. तो चलिए आज़ हम आपको बताते हैं कि कैसे कम पैसों में पानी पूरी बनाकर अधिक से अधिक पैसा कमाया जा सकता है.

देखिए पानी पूरी बनाने का काम आप हांथों से भी शुरू कर सकते हैं. लेकिन अधिक मुनाफे के लिए हम आपको सबसे पहले एक मशीन खरीदने का सुझाव देंगें. पर घबराइए नहीं क्योंकि यह मशीन 24,000 से 40,000 की कीमत में उपलब्ध है. वैसे यह मशीन अमेज़न या इंडिया मार्ट जैसे ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स पर भी मिल जायेंगे, पर आप चाहे तो बाजार से भी इसे खरीद सकतें हैं. वहीं अगर जगह की बात करें तो इस काम को करने के लिए एक 10/12 साइज़ का कमरा भी पर्याप्त है.

ऐसे बनाएं पानी पूरी

सबसे पहले अपनी जरूरत अनुसार आंटे अथवा मैदे का साथ सूजी के साथ एक मिश्रन तैयार कर लें. इसके बाद मशीन सर्टाट करें एवं धीरे-धीरे पानी दालें. मशीन अपने आप आंटां गूंथना शुरू कर देगा. अब गूंथे हुए आंटे को पानीपूरी बनाने के खांचे में डालें. यहां से गूंथा हुआ आंटा पानी पूरी के रूप में गोल-गोल निकलेगा, जिसे आप तेल में तल लें.

छप्पर फाड़ हो सकता है मुनाफा

यह मशीन एक घंटे में 6000 पानी पूरी तैयार कर देती है. अगर औसत निकाला जाए तो भी आपको 900 रूपये का मुनाफा हो रहा है. बाकि मोल-भाव करने में आप माहिर हैं तो हर माह 50,000 से अधिक भी मुनाफा कमा सकतें हैं.

English Summary: start pani puri business and earn huge profit

Like this article?

Hey! I am सिप्पू कुमार. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News