1. ग्रामीण उद्योग

Dairy Farm Business: डेयरी फार्म खोलने में ये सरकारी स्कीम कर सकती है आपकी मदद, हो जाएंगे मालामाल

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
Dairy Farm Business

Dairy Farm Business

अब जम्मू कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश बन चुका है और इसके चलते जम्मू कश्मीर जैसे बड़े प्रदेश में कारोबार बढ़ने फूलने की अच्छी संभावनाएं हैं. यहां श्रद्धालु बड़ी संख्या में आते हैं, तो वहीं स्थानीय लोगों की भी कई जरूरतें होती हैं, जिसमें डेयरी उत्पाद भी शामिल है. यानि जम्मू कश्मीर में डेयरी कारोबार के बढ़ने फूलने की अच्छी संभावनाएं हैं.

वैसे रोजाना जम्मू कश्मीर लगभग 70 लाख लीटर दूध उत्पादित करता है, लेकिन आज भी प्रदेश को बड़ी मात्रा में दूध बाहरी राज्यों से मंगवाना पड़ रहा है, इसलिए जम्मू कश्मीर में डेयरी फार्म खोलना काफी फायदे का सौदा साबित हो सकता है. एक तो यहां दूध की अच्छी खपत होती है, तो वहीं अब सरकार द्वारा डेयरी फार्म (Dairy Farm) खोलने के लिए पूरी सहयोग मिल रहा है.

ऐसे में किसान या युवा बहुत ही आसानी से डेयरी उद्योग की शुरुआत कर सकते हैं. इससे अच्छी आमदनी भी होगी. केंद्र सरकार द्वारा डेयरी फार्म खोलने के लिए कई योजनाएं चलाई जा रही हैं, तो चलिए आपको इसकी विस्तार से जानकारी देते हैं.

कैसे खोलना है डेयरी फार्म? (How to open dairy farm?)

अगर कोई भी डेयरी फार्म (Dairy Farm)  खोलना चाहता है, तो आपके लिए इन दिनों जम्मू-कश्मीर में काइंटीग्रेटिड डेयरी डेवलपमेंट स्कीम चलाई जा रही है. यह स्कीम आपकी राह बहुत आसान बना देगी. इस योजना के तहत 5-50 गाय से डेयरी स्थापित कर सकते हैं.

बता दें कि छोटे से छोटा यूनिट 5 गायें का होना चाहिए. अगर इससे बड़ी डेयरी स्थापित करना है, तो 5-5 गाय जोड़ते जाएं. इस तरह आप 50 गाय जोड़ सकते हैं. मगर शर्त यह है कि गाय बाहरी राज्यों से लानी होगी. इसके पीछे का तर्क यह है कि अगर यहां बाहर से गायें आएंगी, तो जम्मू-कश्मीर में पशुधन और दूध उत्पादन को बढ़ावा मिलेगा.

डेयरी फार्म पर कितना होगा खर्चा? (How much will the dairy farm cost?)

अगर आप 5 गायें का यूनिट स्थापित करने जा रहे हैं, तो इसमें तकरीबन 3.5 लाख रुपए तक का खर्चा आएगा. आपको गाय की अच्छी नस्ल पंजाब में लगभग 70 हजार रुपए में मिल जाएगी. यानि  आपको लगभग 3.5 लाख रुपए का बंदोबस्त करना होगा. राहत की बात यह है कि इस योजना के तहत सरकार 50 प्रतिशत की सब्सिडी उपलब्ध कराती है. यानि सरकार की तरफ से 5 गायों की यूनिट पर 1.75 लाख रुपए की सब्सिडी मिल जाएगी.

डेयरी फार्म के लिए शेड (Shed For dairy farm)

  • डेयरी कारोबार में पशुओं के लिए उचित जगह यानि शेड आदि होना चाहिए. अगर शेड पहले से ही है, तो और भी अच्छा है.

  • बता दें कि 5 पशुओं के नए डेयरी फार्म के लिए शेड बनाने में तकरीबन 1 लाख रुपए तक का खर्चा आ जाएगा.

  • यह डेयरी मालिक को वहन करना होगा, क्योंकि इसमें सरकार की तरफ से सहायता नहीं दी जाएगी.

  • अगर शेड पहले से बना है, तो इसका खर्चा बच जाएगा.

योजना के तहत डेयरी फार्म के लिए आवदेन  (Application for dairy farm under the scheme)

अगर किसी को इंटीग्रेटिड डेयरी डेवलपमेंट स्कीम के तहत अपनी डेयरी स्थापित करना है, तो वह अपने जिले के चीफ एनिमल हसबेंडरी आफिसर से संपर्क कर सकते हैं. आवेदक के पास आधार कार्ड, बैंक की कापी और राशन कार्ड की कॉपी होनी चाहिए. आपके आवेदन करने के बाद सभी दस्तावेजों की जांच पड़ताल की जाएगी. 

अगर आवेदन सही पाया गया, तो आपका नाम योजना की सूची में शामिल हो जाएगा. जब डेयरी स्थापित करने के लिए आपका नंबर आएगा, तो आपको एक पत्र जारी हो जाएगा. इसके बाद आप पंजाब जाकर डेयरी फार्म के लिए पशु ला सकते हैं.

English Summary: Integrated Dairy Development Scheme will help in opening dairy farms

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters