1. ग्रामीण उद्योग

एक्स्ट्रा इनकम के लिए शुरू करें ये कारोबार, कमा सकते हैं लाखों का मुनाफ़ा

प्राची वत्स
प्राची वत्स
Furniture

Wooden Furniture

भविष्य की चिंता हर किसी को रहती है. ऐसे में हर कोई चाहता है की आर्थिक रूप से वह सुरक्षित और मजबूत रहे. लेकिन कोरोना काल के दौरान लाखों लोगों ने अपना रोजगार खो दिया जिस वजह से उनकी आर्थिक स्थिति भी डगमगा गयी.

अगर कुछ ऐसे ही हालात से अब भी आप गुजर रहे हैं तो आप घर बैठे अपनी कमाई बढ़ा (extra income) सकते हैं. आज हम आपको एक ऐसे बिज़नेस आइडियाज से रूबरू करवाएंगे, जिसे शुरू कर आप आसानी से घर बैठे अपनी आमदनी बढ़ा सकते हैं.

आज के समय में वुडन फर्नीचर की बढ़ती मांग ने इसके बिज़नेस को काफी बढ़ावा दिया है. आपको बता दें घरों को सजाने और रेनोवेट करने के लिए लोग आज कल वुडन आइटम्स को ज्यादा पसंद कर रहे हैं. यह बेहद मुनाफे वाला कारोबार (Profitable business) है. इस कारोबार के लिए मोदी सरकार भी आपकी मदद के लिए तैयार है. यानि आप लोन (Business loan) लेकर भी शुरू कर सकते हैं.

आपको बता दें मोदी सरकार मुद्रा योजना (Mudra scheme) के तहत छोटे कारोबारियों को लोन मुहैया कराती है. ऐसे में 75-80 फीसदी तक बिजनेस शुरू करने के लिए लोन मिल जाता है. इस स्कीम का लाभ उठाते हुए आप भी अपना कारोबार शुरू करके कमाई कर सकते हैं.

कितना करें निवेश

इस बिजनेस की शुरुआत आप करीब 1.85 लाख रुपये से कर सकते हैं. जी हां, कम लागत के साथ भी आप अच्छी और मुनाफे वाली बिज़नेस शुरू कर अपनी आय को दोगुना कर सकते हैं. जो आपके आने वाले कल को सुरक्षित करने में आपकी मदद करेगा.

ये भी पढ़ें: Swadeshi Business Ideas: आत्मनिर्भर बनने के लिए करें ये 6 स्वदेशी बिज़नेस और कमाएं लाखों रुपए

स्कीम के तहत कितना मिलेगा लोन?

मुद्रा स्‍कीम के तहत आपको बैंक से कंपोजिट लोन के तहत लगभग 7.48 लाख रुपये का लोन मिल सकता है. इसमें आप फिक्स्ड कैपिटल के तौर पर 3.65 लाख रुपये और तीन माह के वर्किंग कैपिटल के लिए 5.70 लाख रुपये की जरूरत पड़ेगी.

बढ़ेगा आय

इस इनोवेटिव आईडिया के साथ अगर आप अपने बिजनेस को शुरू करते हैं, तो जल्द हीं आपको मुनाफा मिलना शुरू हो सकता है. सारे खर्च निकालकर आपको 60,000 से 1 लाख रुपये मुनाफा आराम से ये बिज़नेस दिला सकता है.

English Summary: Business of wooden furniture Start with low cost, earn profit of millions!

Like this article?

Hey! I am प्राची वत्स. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters