1. ख़बरें

PMFBY: फसल खराब होने पर क्लेम पाने के लिए किसानों को करना होगा ये काम, पढ़िए पूरी खबर

कंचन मौर्य
कंचन मौर्य
PM Fasal Bima Yojana

PM Fasal Bima Yojana

देश की मोदी सरकार की तरफ से किसानों की आय बढ़ाने के लिए लगातार कोशिश की जा रही है. कई योजनाएं हैं, जिनके जरिए किसानों को लाभ पहुंचाया जा रह है. इसमें प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (PMFBY) का नाम भी शामिल है. यह एक ऐसी योजना है, जो लगातार किसानों के हित में कार्य कर रही है. इस योजना के तहत किसानों को कम और एक समान प्रीमियम पर फसल नुकसानी पर भरपाई की जाती है.

क्या है पीएम फसल बीमा योजना? (What is PM Fasal Bima Yojana?)

इस योजना के तहत बुवाई चक्र के पहले से लेकर फसल की कटाई के बाद तक के लिए सुरक्षा प्रदान की जाती है. इसमें प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान के लिए सुरक्षा भी प्रदान करना शामिल है. विश्व स्तर पर पीएम फसल बीमा योजना किसान भागीदारी के मामले में सबसे बड़ी योजना है. इसके साथ ही प्रीमियम के मामले में तीसरी सबसे बड़ी योजना है.

72 घंटे के भीतर सूचना देना आवश्यक (Required to report within 72 hours)

भारतीय कृषि बीमा कंपनी द्वारा ट्वीट करके जानकारी दी गई है. पीएम फसल बीमा योजना का लाभ उठाने के लिए किसानों को क्या करना होगा? ट्वीट में बताया गया है कि अगर किसी किसान को स्थानीय आपदा के कारण फसल में नुकसान हुआ है, तो उसे 72 घंटे के भीतर सूचना देनी होगी.

कब मिलेगा पीएम फसल बीमा योजना का लाभ (When will you get the benefit of PM Fasal Bima Yojana)

  • अगर भूस्खलन, प्राकृतिक आग, ओला वृष्टि, बादल फटना और जलप्लावन की वजह से खड़ी फसल को नुकसान हुआ है, तो फसल बीमा का क्लेम कर सकते हैं.

  • अगर फसल की कटाई के बाद चक्रवात, चक्रवाती बारिश, बैमौसम बारिश और ओला वृष्टि की वजह से नुकसान हुआ है, तो बीमा मिलता है.

  • इन दोनों ही स्थिति में किसानों को 72 घंटे के भीतर सूचना देनी होगी.

पीएम फसल बीमा के लिए क्या करें? (What to do for PM crop insurance?)

यह एक स्वैच्छिक योजना है. अगर आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको आवेदन करना होगा. इसके लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन, दोनों तरीके से आवेदन कर सकते हैं. बता दें कि राज्य सरकार रबी और खरीफ, दोनों सीजन के लिए विज्ञापन जारी करती हैं.

क्या हैं पीएम फसल बीमा योजना के उदेश्य? (What are the objectives of PM Fasal Bima Yojana?)

  • प्राकृतिक आपदाओं, कीट और रोगों के परिणामस्वरूप फसल को नुकसान होने पर किसानों को बीमा कवरेज और वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है.

  • कृषि क्षेत्र में किसानों की आय बढ़ाने का उद्देश्य

  • कृषि में इनोवेशन एवं आधुनिक पद्धतियों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना.

  • कृषि क्षेत्र में ऋण के प्रवाह को सुनिश्चित करना.

कहां से मिलेगा PMFBY के लिए फॉर्म? (Where to get the form for PMFBY?)

  • आप बैंक जाकर फॉर्म ले सकते हैं.

  • इसके अलावा फॉर्म ऑनलाइन भी उपलब्ध होता है. इसके लिए आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmfby.gov.in/   पर जाना होगा.

जरूरी कागजात (Necessary documents)

  • बीमा लेने वाले व्यक्ति की फोटो

  • बीमा लेने वाले व्यक्ति का पहचान पत्र (आधार कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड और पासपोर्ट में से कोई एक दे सकते हैं.)

  • एड्रेस प्रूफ (आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड और पासपोर्ट में से कोई एक दे सकते हैं.)

खेत के कागजात (Farm papers)

जानकारी के लिए बता दें कि खेत में बुवाई की गई फसल का सबूत चाहिए होगा. इसके लिए आप पटवारी, सरपंच, प्रधान आदी से लिखवा सकते हैं. इसके बाद बीमा का पैसा सीधे बैंक के खाते में आएगा. ध्यान दें कि आप जिस खाते में पैसा पाना चाहते हैं, उसका कैंसल चेक भी जमा करना होता है.

English Summary: what to do to take advantage of pm fasal bima yojana

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News