News

ICAR: किसान फसल कटाई के समय इन उपायों को जरूर अपनाएं

देश में कोरोना वायरस का संकट अभी कम नहीं हुआ है. इस कारण पूरे देश को लॉक डाउन कर दिया गया है, जिससे सबसे ज्यादा परेशानी किसान झेल रहा है. दरअसल, किसानों के खेत में रबी की फसल कटाई के लिए तैयार है. फिलहाल लॉक डाउन में किसानों को कृषि  कार्य जारी रखने के लिए बोल दिया गया है. कुछ ही दिनों में रबी फसलों की कटाई में तेजी से होने लगेगी. फसल कटाई के संबंध में कृषि अनुसंधान निकाय आईसीएआर ने किसानों को सलाह दी है.

किसानों को आईसीएआर की सलाह

  • किसानों के लिए आईसीएआर की सलाह है कि खेत में फसल की कटाई करते समय आपस में दूरियां बनाए रखे.

  • खेत में मशीनों का उपयोग करते समय विशेष सावधानी बरतें.

  • मजदूरों से मिलते समय सुरक्षा उपायों का पालन जरूर करें.

फसल कटाई के समय कोरोना संकट

आईसीएआर का कहना है कि अगर फसल कटाई, पशुधन को संभालने और मत्स्य पालन के काम में कोई समस्या होती है तो किसानों समय रहते कृषि विज्ञान केंद्रों (केवीके), आईसीएआर के अनुसंधान संस्थानों और राज्य कृषि विश्वविद्यालयों कृषि-वैज्ञानिकों के साथ संपर्क करें. आईसीएआर के मुताबिक कोरोना वायरस का संकट उस समय हुआ है जब गेहूं, बाजरा, दाल, तिलहन और अन्य रबी फसलों की कटाई के दिन आए हैं. ऐसे में फसल कटाई, फल और सब्जियों, दूध, अंडे और मछली आदि का काम करते समय विशेष सावधनी बरतने की जरूरत है. इसी तरह साझा किए जाने वाले मशीनरी का उपयोग बहुत स्वच्छता और सावधानी के साथ करें. सभी किसान साबुन से हाथ धोएं, सैनेटाइजर का इस्तेमाल करें. इसके साथ ही आपस में दूरी बनाए रखें.

आपको बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने व्यक्तिगत दूरी और साफ सफाई बनाए रखने के लिए अपील की है. ऐसे में हम सबको इस अपील का पालन करना चाहिए. किसानों को परेशानी न हो, इसलिए सरकार ने खेती के कार्य, कृषि श्रमिकों, कृषि उपकरणों और औजार के किराए पर देने वाले केंद्रों के साथ-साथ मंडियों और खरीद एजेंसियों को लॉकडाउन नियमों से छूट दे रखी है.

ये खबर भी पढ़ें: Agricultural input subsidy scheme: किसान को खरीफ फसल नुकसान का अनुदान नहीं मिला, तो 31 मार्च तक करें आवेदन



English Summary: icar tells farmers how to avoid corona at harvest time

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in