News

राशन लेने के लिए पॉस मशीन पर अंगूठा लगाना अनिवार्य, फिर बायोमेट्रिक सत्यापन का नियम हुआ लागू

देशभर में कोरोना महामारी की वजह से लॉकडाउन की अवधि बढ़ती जा रही है. इस संकट की घड़ी में केंद्र और राज्य सरकार द्वारा कई योजनाएं चलाई गई, ताकि गरीब और ज़रूरतमंदों लोगों की मदद हो पाए. इसके लिए सरकार द्वारा मुफ्त राशन प्रदान करने की योजना को भी तेजी से आगे बढ़ाया गया. इसी कड़ी में राजस्थान सरकार ने एक अहम फैसला लिया है.

दरअसल, राजस्थान सरकार ने राशन की दुकानों पर बंद बायोमेट्रिक व्यवस्था को एक बार फिर  शुरू कर दिया है. कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए यह व्यवस्था पिछले 2 महीने से बदं चल रही थी. अभी तक ओटीपी द्वारा राशन वितरण किया जा रहा था, लेकिन अब इस व्यवस्था को बदलकर एक बार फिर बायोमीट्रिक सत्यापन लागू किया जा रहा है. अब जून माह से उपभोक्ताओं को खाद्यान्न बायोमेट्रिक सत्यापन के बाद ही मिल पाएगा. इसके लिए खाद्य विभाग द्वारा गाइडलाइन भी जारी कर गई हैं.

 ये खबर भी पढ़ें: अटल पेंशन योजना में हुए 5 बड़े बदलाव, जानिए क्या है नए नियम

दुकानदार और कार्मिको के लिए गाइडलाइन

  • दुकानदार और उस पर काम करने वाले कार्मचारियों के लिए मास्क और गलव्ज पहनना ज़रूरी है.

  • राशन वितरण वाली जगह पर साफ-सफाई रखना जरुरी है.

  • अगर लाभार्थी ने मास्क नहीं पहना होगा, तो उसे राशन नहीं दिया जाएगा.

राशन लेने वाले लाभार्थियों के लिए गाइडलाइन

  • दुकान पर लाभार्थी को अंगूठा लगाने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह से सेनेटाइज़ करना होगा.

  • दुकानदार को रोजाना पॉस मशीन शुरू करने पहले सेनेटाइज करना है.

  • लाभार्थियों को दुकान पर दूरी बनाकर खड़े होना है.

  • बायोमीट्रिक सत्यापन के समय सामाजिक दूरी बनाए रखनी है, साथ ही बार-बार हाथों को साबुन से धोना और सैनिटाइज करना है.

 ये खबर भी पढ़ें: PMAY: क्या प्लॉट मालिक को मिलता है पीएम आवास योजना का लाभ? जानिए क्या है योजना की शर्त



English Summary: Government of Rajasthan implemented biometric verification rule for distribution of ration

Share your comments


Subscribe to newsletter

Sign up with your email to get updates about the most important stories directly into your inbox

Just in