News

जैविक व हस्तनिर्मित उत्पादों से सज़ा किसान बाज़ार

किसानो व शहरी लोगों द्वारा फ़ार्मर मार्केट लगाई गई. जिसमें हाथ से तैयार हर्बल उत्पाद क्राफ़्ट की प्रदर्शनी लगाई गई. हलवासिया मार्केट में इस प्रदर्शनी का आयोजन ज्योत्सना हबीबुल्ला व शिनजिनी सिंह  ने किया उन्होंने बताया कि किसान व उत्पादकों और ख़रीदार के लिए यह एक सीधा बाज़ार लगाया गया जिसमें निम्न मूल्यों पर बिक्री की गई व किसानो को भी सही मूल्य मिल पाया. इस तरह की प्रदर्शनियों के माध्यम से किसानों को उनके उत्पादों का सही मूल्य मिल जाता है. इस प्रदर्शनी में मुख्यत प्राकृतिक उत्पाद बिक्री के लिए लगाए गए. जिनमे की जैविक ग्रीन्स, रॉयल हनी,  अमोह क्राफ़्ट, जूट आर्टसन, वेंटिया मिल्क जैसी कंपनियों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया. किसान द्वारा लगाए  स्टॉल जिनमे रस्टिक ऑर्गनिक , आलोक फ़ार्म्स,  आर-आर ओरगनिक ने 100 प्रतिशत जैविक उत्पादो से लोगों को रूबरू कराया .  जैविक तरीक़े उगाए व निकले गए दाल,तेल,अनाज,गुड़, हल्दी व बीज को भी इस प्रदर्शनी में शामिल किया गया. 

बाज़ार में बिक रहे केमिकल मौजूद राशन व अन्य उत्पादों  से सेहत पर पड़ रहे नुक़सान को देखते हुए, फ़ार्मस मार्केट  में शहरी लोगों का बहुत उत्साह देखने को मिला और शाम होते- होते  इस प्रदर्शनी में  भीड़ बढ़ती चली. हाथों से तैयार पेपर ज्वेलरी व हर्बल त्वचा व राशन उत्पाद लोगों के ख़ूब पसंद आए और जम कर ख़रीदारी की गई. इस मेले के आयोजन का सीधा फायदा किसानों को मिला.  आयोजक ज्योत्सना हबीबुल्ला ने बताया कि लोगो का उत्साह देखते हुए आने वाले हर महीने में फ़ार्मस मार्केट का आयोजन किए जाने की योजना बनाई जा रही है . जिनमें ना सिर्फ़ जैविक व हस्तनिर्मित उत्पादों की प्रदर्शनी लगेगी बल्कि लोगों को कार्यशाला के ज़रिए स्वास्थ्य के प्रति नई जनकारिया दे के सजग भी किया जाएगा. वही एक तरफ़ लोगों को कम क़ीमत में उत्पाद मिलेंगे वही नए लघु उधोग के भी रास्ते खुलेंगे.इससे महिला उद्यमिता को बढ़ावा मिलेगा और किसानों को फायदा मिलेगा.

 



Share your comments