MFOI 2024 Road Show
  1. Home
  2. मशीनरी

स्टोन पिकर मशीन से मिनटों में निकालें खेत के कंकड़-पत्थर, ये है कीमत

देश के हर एक राज्य में किसी न किसी प्रकार की खेती की जाती है. खेती को जीवन का आधार माना जाता है. आज देश कृषि क्षेत्र में काफी उन्नति कर रहा है. इसका जितना श्रेय किसानों को जाता है, उतना ही श्रेय आधुनिक तकनीक के कृषि यंत्रों को भी जाता है. अगर आज कृषि यंत्र न हों, तो किसानों को कई तरह की परेशानियों से जूझना पड़ेगा. किसानों की खेतीबाड़ी में तापमान, जलवायु, बुवाई और सबसे ज़रूरी फसल के लिए खेत को तैयार करना होता है.

कंचन मौर्य
Subsidy on agricultural machinery
Stone Picker Machine

देश के हर एक राज्य में किसी न किसी प्रकार की खेती की जाती है. खेती को जीवन का आधार माना जाता है. आज देश कृषि क्षेत्र में काफी उन्नति कर रहा है. इसका जितना श्रेय किसानों को जाता है, उतना ही श्रेय आधुनिक तकनीक के कृषि यंत्रों को भी जाता है. अगर आज कृषि यंत्र न हों, तो किसानों को कई तरह की परेशानियों से जूझना पड़ेगा. किसानों की खेतीबाड़ी में तापमान, जलवायु, बुवाई और सबसे ज़रूरी फसल के लिए खेत को तैयार करना होता है.

इसी कड़ी में देश का एक बहुत बड़ा भाग पहाड़ी क्षेत्र भी है, जहां किसान कई तरह की फसलों को उगाते हैं. यहां किसानों के खेतों में अधिक संख्या में बड़े-छोटे पत्थर होते हैं. इस कारण खेती करने में काफी मुश्किलें आती हैं. किसानों को खेत की जुताई में कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है, साथ ही इससे पत्थर से दबे बीज का अंकुरण भी प्रभावित होता है, जिसका पूरा असर फसल की उपज पर होता है. ऐसे में किसान के लिए एक खास कृषि यंत्र बनाया गया है, जिसके द्वारा किसान अपने खेत की मिट्टी को पूरी तरह से साफ़ कर सकते हैं.  

स्टोन पिकर मशीन (Stone picker machine)

किसानों के लिए यह कृषि यंत्र किसी वरदान से कम नहीं है. इस यंत्र की मदद से किसान खेत के लगभग सभी काम कर सकते हैं. खास बात है कि किसान स्टोन पिकर के द्वारा खेतों में से छोटे-बड़े आकार के सभी पत्थरों को एक बार में निकाल सकतें है. यह कम खर्चीला और समय की बचत करने वाला यंत्र है. यह मशीन लगभग 1 एकड़ ज़मीन से केवल 2 घंटे में पत्थर निकाल सकती है.

कैसे चलती है मशीन

स्टोन पिकर मशीन को ट्रैक्टर में लगाकर चलाया जाता है. इस मशीन को किसान किसी भी प्रकार के ट्रैक्टर में लगा सकते हैं. कहा जाता है कि इस मशीन को पंजाब में बनाया गया है.  बाजार में इसकी कीमत लगभग 4 लाख रुपये रखी गई है.

किसानों को लाभ

पुराने वक्त में किसानों को फसल की बुवाई करने से पहले खेत को हाथ या मजदूरों की मदद से साफ़ करना पड़ता था. इसमें समय भी अधिक लगता था, साथ ही किसानों को अधिक लागत भी लगानी पड़ती थी. जिससे किसानों के सामने कई मुश्किलें आती थी, लेकिन इस मशीन ने किसानों की इस समस्या को जड़ से खत्म कर दिया है.  

राजनीति, खेल, मनोरंजन और लाइफस्टाइल से जुड़ी खबर पढ़ने के लिए https://hindi.theshiningindia.com/tag/fashion-tips-in-hindi विजिट करें.

English Summary: remove stones and pebbles through farmer stone picker machine Published on: 20 February 2020, 01:58 PM IST

Like this article?

Hey! I am कंचन मौर्य. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News