1. मशीनरी

खेतीबाड़ी को आसान बनाने के लिए करें इन कृषि यंत्रों का इस्तेमाल, जानिए इनकी खासियत

KJ Staff
KJ Staff

Agricultural Machinery

नई और उन्नत तकनीक से किसानों ने फसल की पैदावार में वृद्धि देखी है. जहां पहले के समय में किसान हल और बैलों से खेती करते थे, वहीं आज के समय में किसान कृषि यंत्रों के इस्तेमाल से अपना समय बचाने के साथ-साथ मुनाफा भी कमा रहे हैं. इस लेख में हम आपको बताएंगे कि लाभ और सुविधा दोनों प्राप्त करने के लिए आप किस मशीनरी का उपयोग कर सकते हैं.

रोटावेटर

रोटावेटर को रोटरी टिलर के नाम से भी जाना जाता है. यह कृषि मशीनरी ट्रैक्टर का पीटी। एन.एस. पहली जुताई के लिए रोटावेटर एक अच्छा और उपयोगी उपकरण है. इस मशीन में L प्रकार के ब्लेड लगे होते हैं, जो रोटरी घुमाकर मिट्टी को काटते हैं और खेत में मौजूद खरपतवार और अवशेषों को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर जमीन में गाड़ देते हैं. इस यंत्र का उपयोग सूखी और जलभरी भूमि दोनों की जुताई के लिए किया जाता है.

यह कृषि यंत्र धान के खेत की तैयारी यानि धान की रोपाई के लिए कड़वा तैयार करने के लिए भी बहुत उपयोगी मानी जाती है. यह 5 से 6 इंच की गहराई तक मिट्टी की जुताई करने में सक्षम है. इस मशीन की लागत इसकी लंबाई और ब्लेड की संख्या पर निर्भर करती है.

कल्टीवेटर

खेत जोतने के लिए कल्टीवेटर एक कृषि यंत्र है, जो दो प्रकार का होता है.

  1. पशु संचालित कल्टीवेटर

  2. ट्रैक्टर चालित कल्टीवेटर

ट्रैक्टर संचालित कल्टीवेटर दो प्रकार के होते हैं.

  1. वसंत की खेती

  2. वसंत रहित खेती

यह कृषि यंत्र खेत की जुताई के साथ-साथ फसल के बीच से खरपतवार निकालने का भी काम करता है. फसलों से खरपतवार निकालने के लिए फसलों की पंक्तियों के बीच एक निश्चित दूरी का होना आवश्यक है. यह कृषि यंत्र अर्थिंग का काम करता है. यह मशीन मिट्टी को मोड़ने के साथ-साथ मिट्टी को भुरभुरा बनाती है. इसके अलावा यह ट्रैक्टर की मदद से संचालित किया जाता है. यह मशीन रेतीली और बलुई दोमट मिट्टी से खेत की जुताई के लिए अच्छी मानी जाती है.

तवेदार हैरो

ट्रेड हैरो को डिस्क हैरो के रूप में भी जाना जाता है. इस कृषि मशीन का उपयोग भूमि की प्राथमिक जुताई के लिए किया जाता है और साथ ही इसका उपयोग ज्यादातर कठोर और सूखी, वीडी और पथरीली भूमि की जुताई के लिए किया जाता है. इस जुताई मशीन से जमीन की करीब 30 सेंटीमीटर गहरी जुताई की जा सकती है. यह कृषि यंत्र ट्रैक्टर की सहायता से संचालित होता है.

भूसी और खरपतवार से खेत की जुताई करने के लिए यह यंत्र बहुत अच्छा माना जाता है, क्योंकि इस यंत्र का उपयोग खरपतवारों और खरपतवारों को मिलाकर मिट्टी में मिलाने, मिट्टी के बड़े हिस्से को तोड़ने और मिट्टी की स्थिति में सुधार करने के साथ-साथ सुधार के लिए किया जाता है.

मोल्ड बोर्ड

मोल्ड बोर्ड कृषि मशीनरी को कई अलग-अलग नामों से जाना जाता है जैसे इस मशीन को एमबी हल, मिट्टी पल हल के नाम से भी जाना जाता है. खेत की मिट्टी की उर्वरता बनाए रखने के लिए समय-समय पर मिट्टी को पलटना अच्छा माना जाता है. यह कृषि यंत्र मिट्टी को उलटने के साथ-साथ खेत में उगने वाले खरपतवारों और अवशेषों को दबाने के लिए बहुत उपयोगी जुताई करने वाली मशीन मानी जाती है. इस उपकरण का उपयोग हरी खाद की फसलों को मिट्टी में दबाने के लिए भी किया जाता है.

इस मशीन को संचालित करने के लिए ट्रैक्टर की आवश्यकता होती है, फॉल मोल्ड बोर्ड कृषि मशीन को संचालित करने के लिए 45 से 20 एचपी ट्रैक्टर की आवश्यकता होती है. टू-फॉल मोल्ड बोर्ड हरे को चलाने के लिए 30 से 40 hp के ट्रैक्टर की आवश्यकता होती है. उसी थ्री-फॉल मोल्ड बोर्ड हरे को चलाने के लिए 40 से 50 hp के ट्रैक्टर की आवश्यकता होती है.

पावर टिलर

यह कृषि यंत्र छोटे और सीमांत किसानों के लिए बहुत उपयोगी है. पावर टिलर खेती के लिए एक ऐसी मशीन है. खेत की जुताई, प्रेसर, रीपर, कल्टीवेटर, सीड ड्रिल मशीन, पावर टिलर में पानी पंप लगाकर किसान तालाब, पोखर, नदी आदि से पानी निकाल सकते हैं. इस कृषि मशीन का उपयोग खेत की मिट्टी को बुवाई तक जोतने के लिए किया जाता है. फसल कटाई, फसलों के परिवहन तक कृषि कार्यों में मदद करता है.

English Summary: Make farming easy with these 5 agricultural machinery

Like this article?

Hey! I am KJ Staff. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters