1. मशीनरी

किसानों के लिए ICAR ने लॉन्च किया बनाना प्रोडक्शन टेक्नोलॉजी Mobile App

मनीशा शर्मा
मनीशा शर्मा

Banana Production Technology Mobile App

देश के किसानों को खेती करने के दौरान किसी भी तरह की समस्या न हो, उसके लिए सरकार समय- समय पर पहल करती रहती है. इसी क्रम में सरकार ने केला की खेती करने वाले किसानों की सुविधा के लिए एक मोबाइल ऐप लॉन्च (Mobile App Launch) किया है. इस Mobile App  के जरिए किसानों को एक ही जगह पर केला की खेती से संबन्धित सम्पूर्ण जानकारी मिल जाएगी. इससे उनका काम आसान होगा और उत्पादन कोभी बढ़ावा मिलेगा.

तीन भाषाओं में सेवाएं दे रहा है Banana Production Technology Mobile App  

इस मोबाईल ऐप को लॉन्च करने के पीछे भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (ICAR) और राष्ट्रीय केला अनुसंधान केंद्र का मकसद किसानों को आत्मनिर्भर बनाना है. सेंटर फॉर डेवेलपमेंट ऑफ एडवांस कंप्यूटिंग, हैदराबाद बाद द्वारा बनाए गए इस Mobile App  का नाम बनाना प्रोडक्शन टेक्नोलॉजी (केला- उत्पादन प्रोद्योगिकी) है.

Banana Production Technology Mobile App  फिलहाल हिंदी, अंग्रेजी और तमिल भाषा में है. अभी, आगे जरूरत पड़ने पर इसे अन्य भाषाओं में भी लॉन्च किया जाएगा. किसान इसे Google play store से अपने स्मार्ट मोबाइल फोन में डाउनलोड (Download to Smart Mobile Phone) कर सकते हैं.

किसानों को इन बातों की मिलेगी सुविधा

Banana Production Technology Mobile App  के जरिए किसानों को जलवायु संबंधी जरूरी जानकारी के अलावा, केले की खेती से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी मिलेंगी.

केला उत्पादन में भारत की स्थिति


केला उत्पादन के मामले में भारत का स्थान विश्व में पहला है. भारत में हर साल तकरीबन 2.75 करोड़ टन केले का उत्पादन होता है. वहीं, दूसरे नंबर पर चीन है, जहां प्रतिवर्ष 1.2 करोड़ टन केले का उत्पादन होता है. इसके बाद फिलीपिंस का नंबर है. भारत उत्पादन में भले ही पहले स्थान पर हो मगर निर्यात में हम काफी पीछे हैं. दुनिया में सबसे ज्यादा केले का निर्यात फिलीपिंस, इक्वाडोर और वियतनाम करते हैं. भारत इस मामले में फिलहाल 4 नंबर पर है.

English Summary: ICAR launches banana production technology mobile app for farmers

Like this article?

Hey! I am मनीशा शर्मा. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News