गार्डेन रोटावेटर या टिलर फूलों की खेती में सहायक

गार्डेन रोटावेटर या टिलर एक तरह की बागों की मशीनरी है. जिसका उपयोग मिट्टी को रोपण के लिए तैयार करने में किया जाता है. यह पोषक तत्वों को मिट्टी में मिलाने में मदद करता है. यह उर्वरकों को मिट्टी में अच्छी तरह से मिलाकर पौधों की जड़ में मदद करता है. जिसके परिणामस्वरुप बेहतर फसलें और पौधे तैयार होते हैं. गार्डेन रोटावेटर या टिलर का उपयोग आमतौर पर बड़े क्षेत्रों की मिट्टी तैयार करने में किया जाता है. यह फूलों के बिजाई और सीमाओं को जल्दी से बदलने और खरपतवार नष्ट करने के लिए भी शानदार होते हैं.

आकार-

रोटावेटर लेने से पहले इस बात पर विशेष ध्यान रखने की जरूरी है की आपको किस आकार के रोटावेटर लेने की आवश्यकता है. अगर हम आम तौर बात करे तो ज्यादातर किसान एक ही प्रकार का रोटावेटर खरीदते है. जो वास्तव में छोटे होते हैं या बड़े पैमाने पर, जब उन्हें वास्तव में आवश्यकता होती है तो छोटे क्षेत्रों में जाने के लिए एक मध्यम आकार की मशीन होती है, लेकिन बड़े आकार के बिस्तरों को घुमाने के लिए पर्याप्त होता है. यदि आप पौधों के बीच छोटे बिस्तरों और सीमाओं को घुमाते हैं, तो आपको केवल सबसे छोटे मॉडल में से एक की आवश्यकता होगी, जहां आपके पास बड़े आवंटन या बगीचे हैं, तो आपको शायद बड़ी खेती वाली चौड़ाई वाले बड़े, अधिक मजबूत मॉडल की आवश्यकता होगी.

इलेक्ट्रिक मॉडल

आमतौर पर इसके सबसे लोकप्रिय मॉडल बिजली से चलते है और घरेलू उपयोग और छोटे आवंटन के लिए यह सबसे अच्छे विकल्प हो सकते हैं. आपको बता दें की गार्डन रोटावेटर में इलेक्ट्रिक मॉडल के रोटावेटर पेट्रोल मॉडल के तुलना में बहुत ही सस्ते होते हैं. इतना ही नहीं इससे खेती करना भी बहुत आसान होती है. क्योंकी यह पेट्रोल मॉडल की तुलना में भी हलके होते हैं. जो विशेष रूप से गार्डनर्स के लिए एक बड़ा लाभ कहा जा सकता है. जो कुछ भारी पेट्रोल मॉडल (कुछ 30 किलो या उससे अधिक तरीके से उठा सकते हैं) को उठाने के लिए पर्याप्त मजबूत नहीं हो सकते हैं. उन्हें कम रखरखाव, तेल परिवर्तन, ईंधन भरने, स्पार्क प्लग या सर्विसिंग बदलने की भी आवश्यकता होती है. वह भी बहुत शांत हैं, जिससे उन्हें घर के बगीचों में उपयोग करने के लिए और अधिक मिलनसार बना दिया जाता है.

पेट्रोल मॉडल

पेट्रोल मॉडल के पास अपने फायदे हैं और अधिकांश सीरस गार्डनर्स, विशेष रूप से आवंटन गार्डनर्स, शायद इलेक्ट्रिक पर पेट्रोल मॉडल का चयन करेंगे. इसके मुख्य फायदे यह हैं कि वे अधिक पोर्टेबल हैं, जिसका अर्थ है कि आप उनका उपयोग कर सकते हैं जहां बिजली की कोई पहुंच नहीं है जो अक्सर आवंटन या बहुत बड़े बगीचों पर होती हैं. वह अधिक कॉम्पैक्ट कुंवारी मिट्टी के साथ-साथ बड़े क्षेत्रों की खेती के लिए आम तौर पर अधिक शक्तिशाली और बेहतर होते हैं, जहां एक बड़े रोटवेटर की आवश्यकता हो सकती है, जो आमतौर पर पेट्रोल मॉडल के रूप में उपलब्ध होते हैं।

मल्टी-टूल मॉडल 

अगर आपको गार्डन रोटावेटर की आवश्यकता है तो बता दें की गार्डन रोटावेटर के कुछ मॉडल ऐसे भी है जो पेट्रोल और बिजली दोनों से ही चलते हैं. अनुलग्नकों में लॉन एयररेटर्स, फॉरो, सीमा किनार, डेथैचर, प्लांटर को छिद्रण छिद्रों या खाइयों को खोदने के लिए प्लॉटर और पैटोर क्षेत्रों में दरारों से खरपतवारों की सफाई के लिए अपने टिलर को एक क्रॉविस क्लीनर में बदलने के लिए लगाव बनाने के लिए उप्लब्द्ध है.

वारंटी और गारंटी

यह आपके लिए महत्वपूर्ण है, यदि आप एक महंगी मशीन खरीदते हैं तो यह होना चाहिए, ज्यादातर मॉडल किसी प्रकार की वारंटी के साथ आते हैं. बहुत सस्ते मॉडल के अपवाद के साथ, अधिकांश मॉडलों में कम से कम 1-2 वर्ष की वारंटी शामिल होती है. सभी मंटिस टिलर्स पूरी मशीन के लिए 5 साल की वारंटी और दिमाग की अतिरिक्त शांति के लिए टूटने के लिए टाइनों पर जीवन की गारंटी के साथ आते हैं.

किस कंपनी का ख़रीदें

यदि आप गार्डेन रोटावेटर खरीदने के लिए सोच रहे हों तो कुछ कंपनियां के नाम नीचे दिए गए हैं आप वहां से संपर्क कर सकते है. नेप्च्यून, बेस्ट स्प्रेयर, रॉयल किंग, किसान क्राफ्ट, कावाशांकी, महिंद्रा, सोनालिका आदि कम्पनी है जिसके आप रोटावेटर खरीद सकते हैं. भारतीय बाजारों में इसकी कीमत 10,000 से शुरू होती है.

कैसे करे कंपनी से सम्पर्क

यदि आप ने गार्डन रोटावेटर ख़रीदना चाहते है लेकिन आप को समझ नहीं आ रहा है कहां से खरीदे तो इसके  लिए आप अपने सम्बन्धित ब्लाक में जाकर कृषि से सम्बंधित जानकारों से इसकी जानकारी ले सकते हैं. इसके आलावा आप कंपनियों के साईट पर जाकर संपर्क कर सकते हैं और उस दिए गए हेल्प लाइन नंबर जानकारी भी ले सकते है. इतना ही नहीं आप इसे ऑनलाइन भी मंगा सकते हैं industrybuying,com, mahindra.com, indiamart.com आदि साइटों के माध्यम से आप ऑनलाइन भी आर्डर कर सकते हैं.

प्रभाकर मिश्रा, कृषि जागरण

Comments