1. मशीनरी

फसल कटाई को आसान बनाने वाली 5 कृषि मशीन, जानिए क्या हैं इनकी विशेषताएं

स्वाति राव
स्वाति राव

Agriculture Machine

खेती की कार्यों में सबसे ज्यादा ध्यान फसल की कटाई करते समय देना होता है. किसान कड़ी मेहनत कर अपनी फसल को उगाता है, साथ ही किसान अपने फसल का उत्पादन को बढ़ाने के लिए आधुनिक कृषि मशीनों का उपयोग करता है

कृषि मशीन न केवल खेती की लागत को कम करते हैं, बल्कि फसल उपज में भी वृद्धि करते हैं. तो आइए आज हम अपने इस लेख में फसल को काटने के लिए 5 कृषि मशीनों के बारे में बताते हैं, जो किसानों के लिए काफी लाभदायक साबित हैं.  

ये खबर भी पढ़े: कृषि विभाग ने कृषि यंत्र खरीदने के लिए मांगा आवेदन, 27 जुलाई है अंतिम तिथि

फसल कटाई मशीन- (Harvesting Machine)

फसल कटाई मशीन के उपयोग से धान के खेतों या ऊपरी भूमि में उगाई जाने वाली चारा फसलों की कटाई की जाती है. इसमें रीपिंग (Reaping) और बेलर पार्ट (Baler Part) शामिल हैं.

अनाज कटाई मशीन - (Grain Harvesting Machine)

इस मशीन से खाने योग्य चोकर,  अनाज की फसल और फलों के बीज जैसे अनाज की कटाई की जाती है. इस मशीन का उपयोग मुख्य रूप से गेहूँ, चावल, सोयाबीन, रेपसीड, मकई की गिरी आदि  की कटाई के लिए उपयोग भी होता है. 

जड़ फसल कटाई मशीन (Root Harvesting Machine)

इस मशीन का उपयोग उन फसलों के लिए होता है, जो जमीन के अन्दर पाई जाती हैं. किसान ऐसी फसलों की उसकी कटाई के लिए जड़ फसल कटाई मशीन का उपयोग करते हैं. इस प्रकार की कटाई मशीन का सबसे अच्छा उदाहरण आधुनिक चुकंदर हार्वेस्टर है

थ्रेशर मशीन (Thresher Machine)

थ्रेशर मशीन को भी फसल की कटाई के लिए उपयोग किया जाता है. इसका अधिकतर इस्तेमाल अनाज को डंठल से अलग करने के लिए होता है.

सब्जी कटाई मशीन (Vegetable Cutting Machine)

किसान इस प्रकार की कटाई मशीन का व्यापक रूप से उपयोग करते हैं. सब्जी कटाई मशीन का सबसे अच्छा उदाहरण टमाटर कटाई मशीन है. इस मशीन के द्वारा किसान सब्जियों की कटाई बहुत आसानी से कर सकते हैं.  

English Summary: agricultural machine used for farming

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News