1. मशीनरी

क्रॉप कटर मशीन फसलों की कटाई के लिए है उपयोगी

स्वाति राव
स्वाति राव

Crop Cutter Machine

पुराने समय में किसान फसलों की कटाई हसिया जैसे यंत्रों के जरिए करते हैं, लेकिन बड़े स्तर पर फसल की कटाई हसिया जैसे छोटे यन्त्र से करना संभव नहीं है. इसमें किसानों का अधिक समय लग जाएगा, इसलिए आजकल आधुनिक तकनीक के मशीनों निर्माण किया जा रहा है.

बता दें बाज़ार में फसल की कटाई करने के लिए तरह–तरह की मशीनों मिल रही हैं, जिसे किसानों को फसलों की कटाई में सहूलियत मिलती है. इसके साथ ही मेहनत भी कम लगती है. ऐसी ही एक क्रोप कटर मशीन (Crop Cutter Machine) है. इसका उपयोग फसलों को काटने में होता है. आइए जानते हैं इस मशीन की खासियत (characteristic) के बारे में.

क्रॉप कटर मशीन की विशेषता (Features Of Crop Cutter Machine)

  • क्रॉप कटर मशीन को रीपर मशीन के नाम से भी जाना जाता है. इसके उपयोग से किसान भाई न केवल गेहूं की फसल की कटाई कर सकते हैं, बल्कि अन्य फसलों की कटाई भी कर सकते हैं जैसे कि धान, धनिया, चना और ज्वार आदि.

  • इस मशीन में एक गोलाकार आरा ब्लेड, विंडरोइंग सिस्टम, सेफ्टी कवर होता है.

  • कवर के साथ ड्राइव शॉफ्ट, हैंडल, ऑपरेटर के लिए हैंगिंग बैंड, पेट्रोल टैंक, स्टार्टर नॉब, लीवर और एयर क्लीनर होता है.

  • इस मशीन में ब्लेड होता है, जो इंजन द्वारा संचालित कर ड्रइव शॉफ्ट (Drive Shaft) के माध्यम से घूमता है

  • फसलों को इकट्‌ठा करने में आसानी के लिए मशीन में एक समान पंक्ति बनाने के लिए एक गार्ड भी होता है.
  • इस मशीन से फसल की कटाई (Crop Harvesting) करने में समय और लागत कम लगती है.

  • बाज़ार में इस मशीम की कीमत हर कंपनी ने अलग–अलग तय कर रखी हैं, लेकिन यह मशीन ज्यादा महंगी नहीं आती है.

आई टी टीम मैनेजर का क्या है कहना (What Does The IT Team Manager Have To Say)

किसान क्रांति एग्रो इंडस्ट्रीज के मैनेजर समीर का कहना है कि क्रॉप कटर मशीन किसानों के लिए काफी लाभदायक है. इस मशीन का उपयोग फसलों की कटाई के लिए किया जाता है. यह बाज़ार में भी सामान्य दर पर मिल जाती है. अगर किसान इस मशीन को खरीदते हैं, तो फसल की कटाई आसनी से कर सकते हैं

English Summary: crop cutter machine is useful for harvesting crops

Like this article?

Hey! I am स्वाति राव. Did you liked this article and have suggestions to improve this article? Mail me your suggestions and feedback.

Share your comments

हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें. कृषि से संबंधित देशभर की सभी लेटेस्ट ख़बरें मेल पर पढ़ने के लिए हमारे न्यूज़लेटर की सदस्यता लें.

Subscribe Newsletters

Latest feeds

More News